मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में ३२३० लोगों ने उपचार का लाभ उठाया

युरेशिया संवाददाता 

 मेरठ। रविवार को जिले के ५७ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (पीएचसी) पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया गया। पूरे जनपद में करीब ३२३० लोगों ने मेले का लाभ उठाया। आरोग्य मेले के लिये १०७ चिकित्सकों ४४३ पैरा मेडिकल स्टाफ की सेवाएं ली गयीं । इस दौरान ५०७ आयुष्मान कार्ड वितरित किये गये।

 मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में ११७६  पुरुष, ११६७ महिलाओं,  ३८७ बच्चों ने पंजीकरण कराया। मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में १४९४ कोरोना (एंटीजन) जांच की गयी। कोविड हेल्प डेस्क पर २०४१ लोगों का परीक्षण किया गया। स्वास्थ्य मेले में सबसे ज्यादा मरीज ७४५ चर्म रोग के आये।  मेले में मौसमी बीमारियों की जांच के अलावा प्रजनन स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं के साथ गर्भवती, बाल और किशोर स्वास्थ्य से जुड़ी जांच पर खास जोर रहा। नवदम्पति को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करते हुए उनकी पसंद के परिवार नियोजन के साधन उपलब्ध कराये गये। मेले में कोविड प्रोटोकाल का पूरी तरह से पालन किया गया।
  मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा अखिलेश मोहन ने बताया सभी पीएचसी पर आयोजित मेले में १२४६ पुरुषों, १४५४ महिलाओं व ४१९ बच्चों का पंजीकरण हुआ। इसके अलावा १८०५ लोगों की कोविड हेल्प डेस्क पर जांच की गयी जबकि १३९४ लोगों का एंटीजन टेस्ट किया गया। जिसमें से एक केस पॉजिटिव मिला। मेले के दौरान ४११ आयुष्मान कार्ड बनाये गये।
उन्होंने बताया कि हेपेटाइसिस बी के १७७, टेस्ट किये गये जिसमें दो की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी। हेपेटाइसिस सी के ११९ टेस्ट किये गये, जिसमें तीन की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी।  ८८ मरीजों का नेत्र परीक्षण,१३१ मरीज लिवर, २४५ मरीज श्वांस संबंधी रोग से पीड़ित मिले। २१३ मधुमेह के रोगी, ७८२ चर्म रोगी, गैस की बीमारी के ३२८, टीबी के २७ एनीमिया के ७२ उक्त रक्त चाप के १६९ रोगी, कैंसर का एक मरीज,  २१२ गर्भवती की जांच की गयी।८३ मरीजों को गभीर बीमारी के चलते मेडिकल के लिए रेफर किया गया। आठ मरीजों की सर्जरी  की गयी। २५ की नेत्र सर्जरी, पांच मरीजों की ईएनटी सर्जरी की गयी।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अखिलेश मोहन ने बताया लोगों को जरूरी स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के लिए प्रत्येक रविवार को शहरी व ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला आयोजित किया जाता है।
कोविड प्रोटोकाल का हुआ पालन
 सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर मेले के दौरान सोशल डिस्टेंसिग का ध्यान रखते हुए कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया गया। मुंह पर मास्क या गमछा लपेटे हुए व्यक्तियों को ही मेले में प्रवेश दिया गया। सभी केंद्रों पर पल्स ऑक्सीमीटरए थर्मल स्क्रीनिगए सैनिटाइजरए रैपिड जांच किट और आवश्यक दवा सहित समस्त व्यवस्थाएं उपलब्ध रहीं।

Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट