नगर पालिका की बोर्ड बैठक में सभासद ने किया आत्मदाह का प्रयास

  • इस कदम से नाराज एसडीएम ने सभासद को किया पुलिस के हवाले 
  • मृतक सभासद शबनम की आत्मा की शांति के लिए बोर्ड बैठक से पहले किया 2 मिनट का मौन धारण


फोटो शानू

रिहान आलम/युरेशिया

सरधना। सरधना नगर पालिका मैं 6 माह बाद हुई बोर्ड बैठक में जमकर हंगामा हुआ। हंगामे के दौरान एक सभासद ने अपने क्षेत्र में प्रस्ताव होने के बाद भी विकास कार्य नहीं होने से नाराज़ होकर आत्मदाह का प्रयास किया । सभासद के इस प्रयास के बाद अधिशासी अधिकारी/ उप जिलाधिकारी अमित कुमार भारतीय ने पुलिस बुलाकर सभासद को पुलिस के हवाले कर दिया। जिसके बाद अन्य सभासदो ने पकड़े गए सभासद को छुड़ाने का प्रयास किया। सभासद के इस कार्य से नाराज़ होकर मीटिंग छोड़कर जा रहे उपजिलाधिकारी का घेराव करते हुए सभासदों ने दोबारा मीटिंग शुरू करने के लिए आग्रह किया। जिसके बाद दोबारा मीटिंग शुरू की गई लेकिन मीटिंग में हंगामा चलता रहा। बाद में कुछ प्रस्तावों पर मुहर लगी।  सरधना नगर पालिका सभागार में आयोजित बोर्ड बैठक चैयरपर्सन सबीला अंसारी की अध्यक्षता में लगभग 12 बजे शुरू हुई। बैठक में मौजूद अधिशासी अधिकारी /उपजिलाधिकारी अमित कुमार भारतीय की मौजूदगी में बोर्ड बैठक शुरू होते ही सभासद शाकिर अंसारी ने कोविंद-19 कार्यकाल के दौरान खर्च हुए 40 लाख का हिसाब मांगा साथ ही इस बात पर भी नाराजगी जताई कि सभी सभासदों ने निर्धनों की मदद के लिए नगरपालिका से मात्र 5 लाख रूपये मांगे थे लेकिन सभासदों को 5 लाख नहीं दिए गए। पकज टाली ने उन ठेकेदारों को ब्लैक लिस्ट करने की मांग की जिन्होंने टेंडर फाइनल होने के बाद अपने काम नहीं किए हैं ऐसे ठेकेदारों को पालिका द्वारा दोबारा भी टेंडर दिए गए हैं। सभासद सुभाष वेद ने रामलीला रोड के निकट पानी की टंकी परिसर में डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की मूर्ति लगाई जाने की मांग की। उन्होंने बताया कि सरधना में बाबा भीमराव अंबेडकर की मूर्ति की स्थापना अभी तक कहीं नहीं की गई है। बैठक के दौरान सभासद अफजाल मलिक ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए बताया कि वह पिछले 3 साल वर्षों से लगातार अपने इलाके के प्रस्तावित निर्माण कार्यों को कराने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही है। पालिका प्रशासन से नाराज अफजाल मलिक ने अपने ऊपर पैट्रोल डालकर आग लगाने का प्रयास किया। इस दौरान उन्हें पास में बैठे अन्य सभासदों ने पकड़ लिया और आग नहीं लगाने दी गयी । सभासद के इस कदम से नाराज़ हुए एसडीएम अमित कुमार भारतीय ने तुरंत ही पुलिस बुलाकर सभासद अफजाल मलिक को गिरफ्तार करा दिया। जिसके बाद नगर पालिका में हंगामा हो गया। सभासदों ने अफजाल मंजूर का समर्थन करते हुए उसे छुड़ाए जाने का प्रयास किया लेकिन एसडीएम किसी की नहीं सुनी।  उन्होंने कहा कि सभासद अफजाल मालिक की डॉक्टरी कराकर कार्रवाई की जाएगी। जिसको लेकर घंटों तक हंगामा चलता रहा। बाद में कुछ सभासदो ने नाराज हुए एसडीएम से दोबारा बैठक करने का आग्रह किया। जिसके बाद चली बैठक में कुछ प्रस्तावों पर मुहर लगी। इस अवसर पर सभासद अतुल जैन युसूफ अंसारी साजिद हसन शहजाद अंसारी रईसुद्दीन उर्फ मुन्ना कुरैशी तारिक हसन कमर अंसारी दिलशाद अंसारी आबिद अंसारी नामित सभासद विनोद जैन वीरेंद्र चौधरी राजकुमार शर्मा महिपाल वाल्मीकि आदि उपस्थित रहे। सभासद को छुड़ाने के लिए चेयरपर्सन पति व पूर्व चेयरमेन निजाम अंसारी कुछ सभासदों के साथ मिलकर एसडीएम से वार्ता कर छुड़ाने का प्रयास करते रहे समाचार लिखे जाने तक सभासद अफजाल मंजूर पुलिस हिरासत में ही रहा।

Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट