-वेंकटेश्वरा एवं इन्डियन एसोसियेषन आॅॅफ मैन्जमैन्ट डब्लैप्मैन्ट (आई0ए0एम0डी0) के संयुक्त तत्वाधान में राश्ट्रीय शिक्षा नीति पर दो दिवसीय “नैप -2021” काॅन्कलेव का आयोजन

  • नवाचारो (इन्नोवेषन) के साथ शोध को बढावा देने से निजी विश्वविद्यालयों में उच्च शिक्षा का स्वरूप गुणक्तापूर्ण एवं ज्यादा प्रभावी होगा - डाॅ0 सुधीर गिरि - चैयरमैन वेंकटेश्वरा समूह
  • -इन्डियन ऐसोशियेशन आफ मैन्जमैन्ट डब्लैप्मैट (भारतीय प्रबन्धन विकास संध) द्वारा डाॅ0 राजीव त्यागी को दूरस्थ शिक्षा के प्रभावी प्रचार-प्रसार एवं इसके द्वारा युवाओ के लिए सम्मानित रोजगार सृजन द्वारा सशक्त एवं आत्मनिर्भर भारत के निर्माण विषय पर शोध ने लिए ”यंग रिसर्चर अवार्ड“ से नवाजा


अनीस खान यूरेशिया ब्यूरो

मेरठ। आज दिल्ली-रूडकी बाईपास स्थित वेंकटेश्वरा संस्थान में वेंकटेश्वरा ग्रप एवं भारतीय प्रबन्धन विकास संध (आई0ए0एम0डी0) के संयुक्त तत्वाधान में “नयी शिक्षा नीति”, समान रूप से प्रभावी क्रियान्वयन एवं इनके द्वारा आत्मनिर्भर भारत विशय पर आयोजित दो दिवसीय राश्ट्रीय काॅन्कलेव (कार्यशाला) का आयोजन किया गया, जिसमें देष के विभिन्न हिस्सो के शिक्षण संस्थानों/विष्वविधालयों से व्यक्तिगत रूप से आये 150 से अधिक शिक्षाविदो,वैज्ञानिको,शौधार्थियों के साथ देषभर के 250 से अधिक शौधार्थियों ने आॅनलाईन प्रतिभाग कर इस नयी शिक्षा नीति द्वारा भारत के विश्व गुरू बनने एवं सषक्त भारत में इसकी भूमिका पर मंथन किया। दूरस्थ  षिक्षा के क्षेत्र में लगातार इन्नोवेशन (नवाचारो) के साथ ग्लोबल स्तर पर षोध करने के लिए वेंकटेश्वरा विश्वविद्यालय  के प्रतिकुलाधिपति डाॅ0 राजीव त्यागी को ”भारतीय प्रबन्धन विकास संध ( इन्डियन एसोसियेषन आॅॅफ मैन्जमैन्ट डब्लैप्मैन्ट) द्वारा ”यंग रिसर्चर-2021“ के अवार्ड से नवाजा गया।

नयी शिक्षा नीति को लेकर आठ एवं नौ मार्च को आयोजित दो दिवसीय राश्ट्रीय काॅन्क्लेव “ नैप - 2021 ( न्यूऐजूकेषन पाॅलिसी ) का षुभारम्भ मुख्य अतिथि विख्यात शिक्षाविद पूर्व कुलपति एवं डीन मैन्जमैन्ट बी0एच0यू0 प्रो0 एच0के0 सिंह, प्रतिकुलाधिपति डाॅ0 राजीव त्यागी, कुलपति प्रो0 पी0 के0 भारती, परिसर निदेशक डा0 प्रभात श्रीवास्तव, विशिष्ट अतिथि प्रो0 राजीव अग्रवाल, कुलसचिव प्रो0 पीयूश पाण्डे आदि ने सरस्वती माॅ की प्रतिमा मे सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित करके किया।

अपने सम्बोघन में मुख्य अतिथि विख्यात षिक्षाविद प्रो0 एच0के0 सिंह ने कहा कि 2020 भारत के लिए ऐतिहासिक रहा है जहा एक ओर वैश्विक क स्वास्थय संकट काॅरोना ने विकसित देशों समेत पूरी दुनिया को घरों में बन्द रहने के लिए विवश कर दिया वही और भारतर्श में इसी 2020 में पहले कोरोना के सफलतम उपचार इसकी वैक्सीन व दूसरी “आत्मनिर्भर भारत अभियान” एवं तीसरी नयी शिक्षा नीति लाकर ये तीनों ऐतिहासिक काम किये, जिसका पूरी दुनिया ने लोहा माना। आज पूरा विश्व आशा भरी निगाहो से भारत की ओर देख रहा है। यही नयी शिक्षा नीति यदि शत प्रतिशत अपने मूल स्वरूप में प्रभावी ढंग से क्रियान्वित हो गयी तो आने वाले एक दषक में भारत को विश्व का सिरमौर बनने से कोई नही रोक पायेगा।

दो दिवसीय राश्ट्रीय कार्यशाला के अलग-अलग आठ सत्रो को डाॅ0 राजीव अग्रवाल, प्रो0 एस0के0 चटर्जी(कोलकाता), डाॅ0 वी0के0नैयर(भुवनेष्वर), डाॅ0 सी0के0 मांजरेकर (मुम्बई) के साथ के देष के 24  से अधिक शिक्षाविदो ने सम्बोधित किया।

इस अवसर पर प्रबधन विभाग द्वारा “नयी शिक्षा नीति के प्रभावी क्रियान्वयन एवं चुनौतियां” विशय पर लिखित पुस्तक का विमोचन भी किया गया।

डिस्टैस ऐजूकेषन (दूरस्थ शिक्षा) पर शानदार षोध के लिए भारतीय प्रबन्धन विकास महासंध द्वारा वेंकटेश्वरा विश्वविद्यालय के प्रतिकुलाधिपति डाॅ0 राजीव त्यागी को शाल, गंगाजली, प्रशस्ति पत्र के साथ “यंगरिसर्चर अवार्ड 2021“ से सम्मानित किया गया। 

इस अवसर पर कुलपति प्रो0 पी0 के0 भारती, परिसर निदेशक डा0 प्रभात श्रीवास्तव, कुलसचिव डाॅ0 पीयूश पाण्डे, कार्यक्रम संयोजक डाॅ0 एस0 एन0 साहू, सहसंयोजक डाॅ0 एस0 के0 सिंह, डाॅ0 आन्नद कुमार, डाॅ0 विपिन कुमार चैहान, डाॅ0 राजेश सिंह, डाॅ0 ऐना ब्राउन, डाॅ0 सी0 पी0 कुषवाहा, डाॅ0 योगेष्वर प्रसाद षर्मा, मारूफ चैधरी, रिंकी शर्मा, अंजली षर्मा, षिवि वत्स एवं मीडिया प्रभारी विशवास राणा उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट