अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस: हमदर्द लैबोरेटरीज ने महिलाओं और डॉक्टरों को किया सलाम

महिलाओं ने निशुल्क परामर्श लेकर हमदर्द वेलनेस सेंटर्स का लाभ उठाया  युरेशिया संवाददाता   गाजियाबाद। महिलाओं और डॉक्टरों के निरंतर सहयोग को सम्मान देने के लिये हमदर्द लैबोरेटरीज वेलनेस कैम्पेन लॉन्च कर अंतराष्ट्रीय महिला दिवस मना रहा है। यह पहल कोविड-19 महामारी के विरुद्ध सुरक्षा की अग्रिम पंक्ति के तौर पर घर की महिलाओं और डॉक्टरों के निरंतर सहयोग और प्रयासों की प्रशंसा करती है। इस पहल पर अपनी बात रखते हुए हमदर्द लैबोरेटरीज (मेडिसिन डिविजन) के चेयरमैन अब्दुील मजीद ने कहा कि हमदर्द का इतिहास कई छोटी-छोटी कहानियों से भरा है। इस कैम्पेन के हिस्से के तौर पर हमदर्द की लोकप्रिय हेल्थस वैन्स पहल गाजियाबाद व मेरठ की महिलाओं को मुफ्त में स्वाथय संबंमधी परामर्श दे रही है। इस पहल के द्वारा हमदर्द की योजना हजारों महिलाओं तक पहुंचने की है। हमदर्द पीसीओ/पीसीओडी और निजी समस्याओं जैसे स्वास्थ्य संबंधी मामलों के इलाज के लिये सही जानकारी की जरूरत को ध्यान में रखकर देशभर में अपने प्रसिद्ध हमदर्द वेलनेस सेंटर्स पर महिलाओं को मुफ्त परामर्श भी देगा। महिला डॉक्टर्स ने सोमवार को इन सेंटर्स पर रेडियो में वीमन ए

तहसील मवाना ग्राम बिसोला में चकबंदी के अधिकारियों ने 160 बीघा जमीन का बड़ा घोटाला


आस मोहम्मद युरेशिया ब्यूरो

मवाना- बुधवार को किया है जिसमें कब्रिस्तान व खेती की जमीन को बड़ा नुकसान पहुंचाते हुए अपने लाभ के लिए घोटाला किया है ग्राम बिसोला के निवासी 14 महीनो से कब्रिस्तान व खेती की जमीन को वापस कराने हेतु जिला अधिकारी, चकबंदी अधिकारी आदि से अनेक बार गुहार लगा चुके हैं ज्ञापन भी दे चुके हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

अतः हमारी आप से गुजारिश है कि ग्राम बिसोला के निवासियों की खबर को संज्ञान में लेते हुए इसको अपने समाचार पत्र/ न्यूज टीवी चैनल में प्रकाशित करने की कृपा करें ताकि आपके द्वारा प्रकाशित खबर का असर हो सके और समाज के लोगों को न्याय मिल सके।

जमीन घोटाला में हुआ कुछ विवरण निम्नलिखित है

  1.  खसरा  संख्या 734 की 68 बीघा जमीन को चकबंदी ने बंजर घोषित कर दिया जबकि इसमें खेती और कब्रिस्तान थे।
  2.  खसरा संख्या 718 की जमीन में 4 बीघा कब्रिस्तान 24 बीघा में खेती होती थी जिसे अब चकबंदी अधिकारियों ने घोटाला करके 28 बीघा जमीन को 40 बीघा करते हुए 12 बीघा में खेती और 28 बीघा में कब्रिस्तान घोषित कर दिया है। 
  3.  खसरा संख्या 765 व अन्य छह खसरा नंबर और सहित 32 बीघा कब्रिस्तान की जमीन को बंजर घोषित कर दिया है।
  4.  खसरा संख्या 730 व अन्य पांच खसरा नंबर सहित 25 बीघा खेती की जमीन को भी काट दिया गया है।

यदि आपको किसी भी तरह की कोई अधिक जानकारी चाहिए या आप इस घोटाले की पुष्टि करना चाहते हैं तो भी आप संपर्क कर सकते हैं

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट