अब 22, 28 व 29 जनवरी को होगा वैक्सीनेशन

Image
वैक्सीनेशन अभियान में महिलाओं ने दिखाई सबसे ज्यादा हिम्मत  वैक्सीनेशन में डर के आगे आधी आबादी की जीत, लिखी नई इबारत युरेशिया संवाददाता मेरठ,। वैक्सीनेशन के साथ 16 जनवरी को कोरोना से अंतिम युद्ध का शंखनाद शुरू करने के बाद अब इस लड़ाई का पहला चरण 22 जनवरी शुक्रवार से शुरू होगा। इस संबंध में शासन की ओर से निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 22 जनवरी के बाद वैक्सीनेशन की अगली तारीख 28 व 29 जनवरी तय की गयी है। जिले में 16 जनवरी को पहला वैक्सीनेशन किया गया। सबसे अच्छी बात यह रही कि जिले में वैक्सीनेशन करवाने वाले किसी भी लाभार्थी में साइड इफेक्ट के गंभीर लक्ष्ण नहीं मिले। 16 जनवरी को स्वास्थ्य विभाग से जुड़े चिकित्सकों, निजी चिकित्सकों व हेल्थ वर्कर्स का टीकाकरण किया गया। जिले में उस दिन टारगेट 694 में से 562 स्वास्थ्य कर्मियों का वैक्सीनेशन किया गया। जनपद में प्रथम चरण के लिए 19533 स्वास्थ्य कर्मियों को चयनित किया गया है। इसमें 9000 सरकारी और 10533 प्राइवेट लाभार्थी हैं। कोरोना वैक्सीनेशन कराने में महिला स्वास्थ्य कर्मियों का जिले में प्रतिशत 41.21 रहा। महिलाओं ने हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा और दम

दरोगा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, शराब के ठेके के बाहर मिला शव


सोनू/युरेशिया

मेरठ। मेरठ में तैनात दारोगा की मंगलवार सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में मौत होने से विभाग में हड़कंप मच गया। दारोगा का शव गंगानगर में शराब के ठेके के बाहर पड़ा मिला। घटना पर अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटना की छानबीन कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। हालांकि दारोगा की मौत की वजह स्पष्ट नहीं हो पाई है। बताया गया कि वह अलीगढ़ के पिसावा के रहने वाले थे। परिजनों को सूचना दे दी गई है। मौत की खबर सुनकर परिजनों में कोहराम मच गया।

जानकारी के अनुसार मेरठ में तैनात दरोगा की मंगलवार सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। गंगानगर थाने से 250 मीटर दूर शराब ठेके के बाहर उनका शव मिला है।  सूचना पर इंस्पेक्टर गंगानगर विजेंद्र राणा मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। पुलिस की जांच पड़ताल में सामने आया है कि यह शव कई घंटे से यहां पड़ा हुआ था। वह अलीगढ़ जिले में पिसावा के रहने वाले थे। इस समय मेरठ पुलिस लाइन में तैनात थे। दरोगा की पत्नी अंजलि भी बुलंदशहर जिले के गुलावठी थाने में तैनात हैं। पुलिस का कहना है कि दोनों गंगानगर डी-ब्लॉक में रहते थे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।  सीओ सदर देहात पूनम सिरोही का कहना है कि पूरे मामले में जांच की जा रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल सकेगा।

Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव