जिला कारागार में कैदी ने फांसी लगाकर दी जान


सोनू /युरेशिया

मेरठ के चौधरी चरण सिंह जिला कारागार में रविवार सुबह एक बंदी द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या किए जाने के बाद हड़कंप मच गया। बैरक के पीछे बने शौचालय की छत पर रखी पानी की टंकी के सहारे चादर से बंदी का शव लटका मिला। जांच पड़ताल के बाद शव को नीचे उतारकर मोर्चरी भिजवा दिया गया। अधिकारियों ने मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

जिला जेल प्रशासन के अनुसार, लखीपुर लिसाड़ीगेट निवासी साजिद (26 वर्ष) पुत्र यूसुफ दहेज हत्या के मामले में 24 सितंबर को अस्थाई जेल में आया था। 22 अक्टूबर को साजिद को मुख्य जेल शिफ्ट कर दिया गया। यहां वह बैरक नम्बर एक में बंद था।

रविवार सुबह जेल में बैरक के पीछे बने शौचालय की छत पर रखी पानी की टंकी के पाइप से चादर के सहारे साजिद को लटका देख अन्य बंदियों में हड़कंप मच गया।  जेल के अफसर मौके पर पहुंचे और पड़ताल शुरू की। आनन फानन में शव को नीचे उतारा गया। वहीं फोरेंसिक टीम भी बुला ली गई। पूरी छानबीन के बाद शव को मोर्चरी भिजवा दिया गया।

वरिष्ठ जेल अधीक्षक डॉ. बीडी पांडे ने बताया की बंदी के आत्महत्या करने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। जांच के आदेश दिए गए हैं। जांच के बाद सामने आए तथ्यों के आधार पर ही कुछ कहा जा सकेगा। फिलहाल जेल में साजिद का किसी से कोई विवाद न होना सामने आया है।

बताया गया कि मृतक बंदी के परिजनों को सूचित कर दिया गया है। युवक द्वारा आत्महत्या किए जाने की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। अधिकारी फिलहाल मौके पर मौजूद हैं। जिला कारागार में सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी की जा रही है।

Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट