अब 22, 28 व 29 जनवरी को होगा वैक्सीनेशन

Image
वैक्सीनेशन अभियान में महिलाओं ने दिखाई सबसे ज्यादा हिम्मत  वैक्सीनेशन में डर के आगे आधी आबादी की जीत, लिखी नई इबारत युरेशिया संवाददाता मेरठ,। वैक्सीनेशन के साथ 16 जनवरी को कोरोना से अंतिम युद्ध का शंखनाद शुरू करने के बाद अब इस लड़ाई का पहला चरण 22 जनवरी शुक्रवार से शुरू होगा। इस संबंध में शासन की ओर से निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 22 जनवरी के बाद वैक्सीनेशन की अगली तारीख 28 व 29 जनवरी तय की गयी है। जिले में 16 जनवरी को पहला वैक्सीनेशन किया गया। सबसे अच्छी बात यह रही कि जिले में वैक्सीनेशन करवाने वाले किसी भी लाभार्थी में साइड इफेक्ट के गंभीर लक्ष्ण नहीं मिले। 16 जनवरी को स्वास्थ्य विभाग से जुड़े चिकित्सकों, निजी चिकित्सकों व हेल्थ वर्कर्स का टीकाकरण किया गया। जिले में उस दिन टारगेट 694 में से 562 स्वास्थ्य कर्मियों का वैक्सीनेशन किया गया। जनपद में प्रथम चरण के लिए 19533 स्वास्थ्य कर्मियों को चयनित किया गया है। इसमें 9000 सरकारी और 10533 प्राइवेट लाभार्थी हैं। कोरोना वैक्सीनेशन कराने में महिला स्वास्थ्य कर्मियों का जिले में प्रतिशत 41.21 रहा। महिलाओं ने हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा और दम

मंदसौर में धार्मिक स्थलों पर तोड़फोड़ करने पर कांग्रेस अल्पसंख्यक इकाई में रोष


सोनू युरेशिया

मेरठ। मध्य प्रदेश के मंदसौर में धार्मिक स्थलों पर हुई तोड़फोड़ व वहा के रहने वाले मुस्लिम समाज के लोगो के संग बदसलूकी की घटना को लेकर मेरठ में आज कांग्रेसी अल्पसंख्यक इकाई ने घटना पर रोष जताते करते हुए सड़क पर उतरे और मंदसौर सरकार के खिलाफ तख्ती पर हाय हाय लिखकर जमकर नारेबाजी की प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस के अल्पसंख्यक इकाई पार्टी के मेरठ महानगर अध्यक्ष नसीम सैफी ने बताया के मंदसौर में धार्मिक स्थल में तोड़फोड़ करना धार्मिक भवनाओं को आहत पहुँचने का जो काम मंदसौर की सरकार कर रही है उसकी अल्पसंख्यको में काफी रोष है वही वही शिवराज चौहान भी ये विवादित ब्यान दे रहे है के जो भी उनके प्रदेश में गुंडागर्दी करेगा उसको 10 फुट जमीन के नीचे गाड़वा दूँगा। उनके इस ब्यान के बाद आरआरएस व बजरंग दल के कुछ अराजतत्व लोगो ने मस्जिद में तोड़फोड़ कर दी धार्मिक झंडे लहराए , मस्जिद में झंडे बांध दिए इतना ही नही वहा के आस पास रहने वाले मुस्लिम लोगो के घरों पर हमला कर दिया उसके बाद भी उपद्रवियों को छोड़कर मुस्लिम समाज के लोगो को ही हिरासत में लिया गया।जिसके आज कांग्रेस अल्पसंख्यक इकाई से जुड़े सभी कार्यकर्ताओ ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया और और मेरठ जिलाधिकारी को राष्ट्रपति के नाम  ज्ञापन सौंपा गया है और मांग की है जो मुख्य आरोपी है उनको जल्द से जल्द गिरफ्तारी की जाये। 

Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव