विनायक विद्यापीठ के छात्र रिकान्त नागर ने राज्य स्तर पर प्राप्त किया प्रथम स्थान

Image
प्रयागराज में आयोजित 54वीं उत्तर प्रदेश राज्य वार्षिक एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं में जीता स्वर्ण पदक युरेशिया विनायक विद्यापीठ महाविद्यालय ने एक बार फिर जीत का परचम लहराकर राज्य स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त किया है। बीए द्वितीय वर्ष के छात्र रिकांत नागर ने प्रयागराज के मदन मोहन मालवीय स्पोर्ट्स स्टेडियम द्वारा आयोजित 54वीं उत्तर प्रदेश राज्य वार्षिक एथलेटिक्स प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन दिया है। रिकांत ने अंडर - 20 इवेंट में 110 हर्डल रेस में प्रथम स्थान प्राप्त कर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। और 400 हर्डल रेस में कांस्य पदक हासिल किया। संस्थान के चेयरमैन डॉ सोमेंद्र तोमर हमेशा ही बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए प्रयासरत रहते हैँ। वह स्वयं भी खेल कूद से जुड़े रहते हैँ व छात्र छात्राओं को भी प्रेरित करते हैँ। रिकांत के इस प्रदर्शन पर उन्होंने विशेष शुभकामनायें प्रेषित की। इस मौके पर संस्थान की प्राचार्या डॉ उर्मिला मोरल ने बुके व सर्टिफिकेट देकर रिकांत को सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि वह बेहद गौरवान्वित महसूस करती हैँ ज़ब भी संस्थान के छात्र छात्रा विभिन्न क्षेत्रों में अपना उम्दा प्रदर्शन

दिल्ली जाने से किसानों को रोक रहे मुरादाबाद एसएसपी की गाड़ी पर हुवे हमले को लेकर सहारनपुर पुलिस प्रशासन हुआ सतर्क

  • थाना जनकपुरी इंचार्ज अभिषेक सिरोही ने किसान संगठनों के पदाधिकारियों संघ की शांति समिति की मीटिंग


युरेशिया संवाददाता

 सहारनपुर।  आपको बता दे आज मुरादाबाद से दिल्ली कूच कर रहे किसानों को रोक रहे मुरादाबाद एसएसपी की गाड़ी पर हुवे हमले को लेकर सहारनपुर पुलिस प्रशासन सतर्क हो गया है।

 जिसको लेकर आज थाना जनकपुरी इंचार्ज अभिषेक सिरोही द्वारा भारतीय किसान यूनियन तोमर के पदाधिकारियों द्वारा एक मीटिंग का आयोजन किया गया जिसमें अभिषेक सिरोही ने किसानों से शांति बनाए रखने की अपील की।

भाकियू तोमर के प्रदेश उपाध्यक्ष रईस मलिक ने कहा कि पुलिस में सभी किसान भाइयों के ही नोजवान मौजूद है। भारतीय किसान यूनियन तोमर की लड़ाई ना तो पुलिस प्रशासन से है और ना ही सरकार से हमारी लड़ाई सरकार द्वारा थोपे गए तीनो काले कानून से है। मीडिया प्रभारी आरिफ मलिक ने कहा कि मुझे पूरा यकीन है मुरादाबाद एसएसपी पर हुवे हमले में किसान साथि नही हो सकते यकीनन यह वह लोग है जो किसान आंदोलन को खराब कर खत्म करना चाहते है। हम इस हमले की कड़ी निंदा करते हैं।

इस दौरान किसान नेताओं में उस्मान, बिलाल, राजीव, लुकमान, राजेश, सन्नी, देवेंद्र आदि मौजूद रहे। वह पुलिस में चौकी इंचार्ज वीनू सिंह, प्रदीप यादव, हेड कॉस्टबल हरेंद्र आदि मौजूद रहे।

Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव