अब 22, 28 व 29 जनवरी को होगा वैक्सीनेशन

Image
वैक्सीनेशन अभियान में महिलाओं ने दिखाई सबसे ज्यादा हिम्मत  वैक्सीनेशन में डर के आगे आधी आबादी की जीत, लिखी नई इबारत युरेशिया संवाददाता मेरठ,। वैक्सीनेशन के साथ 16 जनवरी को कोरोना से अंतिम युद्ध का शंखनाद शुरू करने के बाद अब इस लड़ाई का पहला चरण 22 जनवरी शुक्रवार से शुरू होगा। इस संबंध में शासन की ओर से निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 22 जनवरी के बाद वैक्सीनेशन की अगली तारीख 28 व 29 जनवरी तय की गयी है। जिले में 16 जनवरी को पहला वैक्सीनेशन किया गया। सबसे अच्छी बात यह रही कि जिले में वैक्सीनेशन करवाने वाले किसी भी लाभार्थी में साइड इफेक्ट के गंभीर लक्ष्ण नहीं मिले। 16 जनवरी को स्वास्थ्य विभाग से जुड़े चिकित्सकों, निजी चिकित्सकों व हेल्थ वर्कर्स का टीकाकरण किया गया। जिले में उस दिन टारगेट 694 में से 562 स्वास्थ्य कर्मियों का वैक्सीनेशन किया गया। जनपद में प्रथम चरण के लिए 19533 स्वास्थ्य कर्मियों को चयनित किया गया है। इसमें 9000 सरकारी और 10533 प्राइवेट लाभार्थी हैं। कोरोना वैक्सीनेशन कराने में महिला स्वास्थ्य कर्मियों का जिले में प्रतिशत 41.21 रहा। महिलाओं ने हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा और दम

भाजपा सरकार किसान विरोधी है और किसानों की आवाज दबाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है: हाजी गुलाम मोहम्मद

  • सरकार पूरी तरह किसान विरोधी है आज इस बात से पता चल गया किसान की आवाज दबाने के लिए किस हद तक जा सकती है जिस तरह से सरकार के इशारे पर गिरफ्तारी कराई गई यह एक लोकतांत्रिक हत्या है : हाजी गुलाम मोहम्मद पूर्व विधायक सिवाल खास



रिहान आलम/युरेशिया

मेरठ। कृषि बिल को लेकर दिल्ली में हो रहे किसान प्रदर्शन को लेकर सभी राजनीतिक दल एक मंच पर दिखाई दे रहे हैं सोमवार को समाजवादी पार्टी ने भी प्रदेश में किसान यात्रा निकालने का आव्हान अपने कार्यकर्ताओं से किया था जिसमें पुलिस ने पूरी सतर्कता दिखाते हुए समाजवादी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया और कुछ को उन्हीं के घर में नजरबंद किया जिसमें मेरठ जिले के नेता अतुल प्रधान जिलाध्यक्ष राजपाल चौधरी विपिन विपिन मनोठिया मजदूर सभा के जिलाध्यक्ष मंजूर मलिक पूर्व जिला अध्यक्ष जयवीर सिंह और सिवालखास के पूर्व विधायक हाजी गुलाम मोहम्मद को पुलिस ने गिरफ्तार किया वही मेरठ शहर से विधायक हाजी रफीक अंसारी को पुलिस ने उसी के घर में नजरबंद किया वही हाजी गुलाम मोहम्मद पूर्व विधायक सिवाल खास ने बताया कि किसानों की अनदेखी और अन्नदाता पर हो रहे अत्याचारों और उनकी आवाज दबाने  के विरोध में अखिलेश यादव जी राष्ट्रीय अध्यक्ष समाजवादी पार्टी के आह्वान किसान यात्रा निकालने का आवाहन किया था जिसमें सोमवार को समाजवादी कार्यकर्ता किसान यात्रा निकालने की तैयारी कर रहे थे जिसे लेकर योगी सरकार की गलत नीति के चलते समाजवादी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार करना पड़ा इससे भाजपा सरकार की नीति का साफ पता चलता है कि भाजपा सरकार किसान विरोधी सरकार है और किसान की आवाज दबाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है जिस कारण आज पूरे प्रदेश में समाजवादी लोग किसान यात्रा निकालने की तैयारी कर रहे थे तो वही योगी सरकार पुलिस के दम पर समाजवादी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर किसानों की आवाज दबाने की कोशिश कर रहे हैं समय बदल रहा है और जनता किसान बेरोजगार युवा सरकार की नीतियों से भली-भांति जान चुके हैं आने वाले विधानसभा चुनाव में यही जनता सरकार को उखाड़ फेंक कर इसका जवाब देगी हाजी गुलाम मोहम्मद ने गिरफ्तारी देने से पहले सिवाल खास विधानसभा ऐरिया के ग्राम पाँचली खुर्द में  किसान हित  रैली निकाली गई बाद में पुलिस ने जिले के कई बड़े नेताओं को गिरफ्तार कर लिया और उन्हें लेकर अलग-अलग थाने और पुलिस लाइन में ले जाया गया जिन्हें शाम तक जमानत भी दे दी गई

Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव