शासन से मिली छह लाख सिरिंज, कोरोना वैक्सीनेशन के लिए एक्शन प्लान तैयार करने में जुटा स्वास्थ्य विभाग

  • अलर्ट मोड में रहेंगी स्वास्थ्य विभाग की टीमें 

 अनीस खान यूरेशिया 
मेरठ,। कोविड वैक्सीनेशन के लिए स्वास्थ्य विभाग को छह  लाख सिरिंज की खेप शासन से मिल गयी है। इसके साथ ही शासन ने विभाग को जल्द से जल्द वैक्सीनेशन का माइक्रोप्लान भेजने के निर्देश भी जारी किये हैं। विभाग को अलर्ट मोड में रहने को कहा गया है। हरी झंडी मिलते ही वैक्सीनेशन सेशन शुरू होगा। जिले में तीनों चरणों के लिए तैयारी की जा रही है। पहले चरण के लिए करीब १७७५६  स्वास्थ्य कर्मियों को चिन्हित किया गया है। उम्मीद की जा रही है १५ जनवरी के बाद वैक्सीन आ सकती है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अखिलेश मोहन के मुताबिक वायरस पर वार करने के लिए ५५ मिनट का संभावित समय माना जा रहा है। तीन स्टेप्स में होने वाले वैक्सीनेशन के लिए करीब १५ मिनट की वेटिंग रखी गई है। वैक्सीनेशन से पहले व्यक्ति की जांच की जाएगी। करीब १० मिनट वैक्सीन के लिए और ३० मिनट पोस्ट वैक्सीनेशन सर्विलांस के लिए रखे गये हैं। मेरठ में पहले चरण के लिए २०० सेशन की तैयारी हो रही है। एक सेशन में १०० लोगों को वैक्सीन लगाने का काम किया जाएगा। एक दिन में अलग-अलग बूथों पर ६० सेशन आयोजित होंगे। तीन दिन में पहले चरण का वैक्सीनेशन पूरा करने का टारगेट विभाग ने रखा है। सीएमओ ने बताया वैक्सीनेशन के बाद किसी भी विपरीत परिस्थिति से बचाव के लिए एक विशेष किट का इस्तेमाल किया जाएगा। ३० मिनट की निगरानी के दौरान एक-एक पल अहम होगा। इस किट में एड्रीनलीन इंजेक्शन, एपिनेफ्रीन इंजेक्शन, स्टेरॉयड समेत तमाम इमरजेंसी ड्रग व आवश्यक डिवाइस होंगी। वैक्सीनेशन के लिये ३७ कुल केन्द्र बनाये गये हैं। च्कोरोना वैक्सीन को लेकर शासन के निर्देशों के तहत ही काम किया जा रहा है। ट्रेनिंग दे दी गई है। माइक्रो प्लान तैयार किया जा रहा है। निर्देश मिलते ही टीमों को एक्टिव कर दिया जाएगा।ज् डा. अखिलेश मोहन, सीएमओ, मेरठ.

Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट