गैस सिलेंडर लीकेज होने से घर में लगी आग , हालत गंभीर

Image
अनीस खान यूरेशिया ब्यूरो मेरठ ।  जानी क्षेत्र के गांव  नेक में खाना बनाते समय लिकिंज सिलेंडर में आग लग गई । आग लगने से परिवार के लोग झुलसे । ग्रामीणों ने आग पर काबू पाया।  मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया ।       शनिवार की रात को घर में खाना बनाते समय  लिकिंज सिलेंडर में आग लग गई । आग लगने पर घर में अफरा-तफरी मच गई । ग्रामीणों ने बताया महिपाल पिता रकबर निवासी नेक की पत्नी उषा घर में खाना बना रही थी । घर में रखा सिलेंडर लीकेज हो गया।  लीकेज सिलेंडर ने आग पकड़ ली । आग पकड़ने पर घर में अफरा-तफरी मच गई । घर में रखा सामान जलकर खाक हो गया । ग्रामीणों ने बड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया । मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल महिपाल पत्नी उषा , लड़के अजय व अमन  को सुभारती अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया ।

फर्जी युनिटो पर आज भी दुकानो΄ पर आ रहा राशन

  • परिवार मे΄  एक या दो सदस्य राशन कार्ड  मे΄ यूनिट चार -पा΄च

चार युनिट की पर्ची पर दर्ज 12 किलो गेहू व सात किलो चावल। 

स΄जय त्यागी/युरेशिया

मेरठ। परिवार मे΄ सदस्य दो है तो राशन कार्ड और मशीन मे΄ चार कैसे आ रहे है इससे साफ  जाहिर हो रहा है कि कही ना कही राशन डीलर और पूर्ति निरीक्षक मिलकर कालाबाजारी करवा रहे है। शास्त्री नगर सेटर 11 मे΄ चल रही यशोदा देवी सस्ते गल्ले की दूकान जो कि सरफराज से अटेच है, सरफरारज की दूकान पर बैठने वाला उसका पुत्र खुलेआम ग्राहको΄ का उत्पीडऩ कर रहा है। बावजूद इसके अधिकारी उसपर कोई कार्यवाही नही΄ कर रहे इतना ही नही΄ इस माह तो उसने कुछ ग्राहको को एक किलो चावल  तो कुछ को एक यूनिट का कम राशन दिया है। इतना ही नही΄ कुछ राशन कार्ड मे΄ फर्जी यूनिट भी जुड़े हुए है राशन कार्ड धारको के घर मे΄ दो ही सदस्य है लेकिन मशीन मे΄ चार या पा΄च का राशन आता है। दो यूनिट का राशन देने के बाद बाकी राशन डीलर लैक कर देता है ऐसा नही΄ इन बातो की जानकारी अधिकारियो΄ को ना हो लेकिन उनकी जेब हर माह गरम की जाती है जिस कारण ऑफिस मे΄ बैठे हुए ही पूर्ति निरीक्षक स्टॉक रजिस्टर और बेले΄स चेक कर देते है। राशन कार्ड स΄ख्या: 113840745310 मे΄ चार यूनिट है जबकि इनके परिवार मे΄ दो ही सदस्य है। इनके दो बेटे है उन दोनो΄ केभी  अलग राशन कार्ड बने हुए है। कार्ड स΄ख्या -113810484227 मे΄ छ  यूनिट है जबकि इनके परिवार मे΄ सिर्फ चार ही सदस्य है।  कार्ड स΄ख्या - 113840699479 मे΄ चार यूनिट है जबकि इनके घर मे΄ मात्र दो ही सदस्य है। ये कार्ड पदमा पत्नी रामलाल के नाम से जिसमे΄ पा΄च यूनिट है जबकि इनके परिवार मे΄ सिर्फ  दादी पोता है। पोते का नाम काट दिया गया बुजुर्ग महिला ने ऑन लाइन फार्म भी भरकर दिया लेकिन उसका नाम नही΄ जुड़ा। ऐसे दर्जनो΄ राशन कार्ड और भी होगे΄ जिन पर फर्जी तरीके से राशन आ रहा है। इस मामले की जानकारी लेनी चाही तो पूर्ति निरीक्षक का फोन रिसीव नही΄ हो सका। 

Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव