ओवरलोड ट्रैक्टर ट्रॉलो से हो सकता है बड़ा हादसा

Image
थाने के सामने ट्रैक्टर ट्राला से लगा लंबा जाम। डॉ असलम/यूरेशिया बहसूमा। नगर में ओवरलोड वाहनों पर नहीं लग रहा अंकुश चीनी मिल में सेंट्रल से गन्ना लाने वाले ओवरलोड ट्रैक्टर ट्रॉली नगर में कभी भी बड़े हादसे को आमंत्रित कर सकते हैं नगर के मवाना रामराज रोड मार्ग पर पड़ने वाले सेंटर से मिल में गन्ना जाता है लेकिन ओवरलोड होने के कारण जहां जाम की समस्या रहती है और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है कई बार दुर्घटना भी हो चुकी है ओवरलोड वाहनों पर अंकुश नहीं लग पा रहा है हालांकि पहले सैंटरो  से गन्ना ट्रक से उठाया जाता था। लेकिन अब सेंटर  से गन्ना  ट्रैक्टर  टोला से उठाया  जा रहा है  जिसमें  लगभग वजन  350  कुंटल  के करीब  होता है  जो  बहुत  अधिक है जो  दुर्घटना  को आमंत्रित करता है। संयुक्त व्यापार संघ एसोसिएशन के कई बार अधिकारियों को ज्ञापन देकर ओवरलोड वाहनों पर अंकुश लगाने की मांग कर चुके हैं लेकिन इस और ध्यान नहीं दिया गया इस मामले में थाना प्रभारी शिवदत्त ने बताया कि 2 दिन पूर्व कुछ ओवरलोड ट्रैक्टरों के चालान भी किए जा चुके हैं ओवरलोड वाहनों पर जल्द ही अंकुश लगाया जाएगा

भाकियू नेता की शिकायत पर टिकोला मिल में पहुंचे खांडसारी अधिकारी, की जांच

डॉ0 असलम/युरेशिया

बहसूमा। टिकोला शुगर मिल रामराज में चल रही अनियमितताओं पर भाकियू नेताओं की शिकायत पर खाडसारी अधिकारी टिकोला शुगर मिल में पहुंचे जिसमें उन्होंने गहरीनता से जांच की। उन्होंने यार्ड में पानी की व्यवस्था एवं साफ सफाई व्यवस्था तथा कांटो की जांच की। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि किसानों की आने वाली परेशानियों को दूर किया जाए नहीं तो कड़ी कार्यवाही की जाएगी। बताते चलें कि भाकियू के युवा जिलाध्यक्ष चौधरी उदयवीर सिंह एवं किसान नेता अरविंद सिंह ने जिला गन्ना अधिकारी मुजफ्फरनगर आरडी त्रिवेदी से मिल में कांटो की जांच एवं साफ सफाई व्यवस्था पानी आदि उपलब्ध न होने पर शिकायत की थी। जिस पर खांडसारी अधिकारी चंद्रशेखर ने मिल में जाकर औचक निरीक्षण किया। जिसमें साफ सफाई पानी आदि ना होने पर नाराजगी जाहिर की और अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि किसानों की आने वाली परेशानी को दूर किया जाए नहीं तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कांटो की गहरीनता से जांच की। उसके बाद मिल के अंदर जाकर साफ सफाई व्यवस्था देखी। उन्होंने मिल के अधिकारियों से जल्द ही साफ सफाई व्यवस्था, शुद्ध पेयजल, काटो को सही करने के निर्देश दिए हैं। वही किसानों ने कहा कि मिल ने एक सप्ताह का भुगतान तो भेज दिया है। लेकिन समिति ने किसानों के खाते में पैसा नहीं भेजा है। जिससे किसानों में समिति के प्रति रोष व्याप्त है। उन्होंने कहा कि यदि मंगलवार तक किसानों का पैसा खातों में नहीं आया तो समिति में हंगामा किया जाएगा।

Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव