विनायक विद्यापीठ के छात्र रिकान्त नागर ने राज्य स्तर पर प्राप्त किया प्रथम स्थान

Image
प्रयागराज में आयोजित 54वीं उत्तर प्रदेश राज्य वार्षिक एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं में जीता स्वर्ण पदक युरेशिया विनायक विद्यापीठ महाविद्यालय ने एक बार फिर जीत का परचम लहराकर राज्य स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त किया है। बीए द्वितीय वर्ष के छात्र रिकांत नागर ने प्रयागराज के मदन मोहन मालवीय स्पोर्ट्स स्टेडियम द्वारा आयोजित 54वीं उत्तर प्रदेश राज्य वार्षिक एथलेटिक्स प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन दिया है। रिकांत ने अंडर - 20 इवेंट में 110 हर्डल रेस में प्रथम स्थान प्राप्त कर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। और 400 हर्डल रेस में कांस्य पदक हासिल किया। संस्थान के चेयरमैन डॉ सोमेंद्र तोमर हमेशा ही बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए प्रयासरत रहते हैँ। वह स्वयं भी खेल कूद से जुड़े रहते हैँ व छात्र छात्राओं को भी प्रेरित करते हैँ। रिकांत के इस प्रदर्शन पर उन्होंने विशेष शुभकामनायें प्रेषित की। इस मौके पर संस्थान की प्राचार्या डॉ उर्मिला मोरल ने बुके व सर्टिफिकेट देकर रिकांत को सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि वह बेहद गौरवान्वित महसूस करती हैँ ज़ब भी संस्थान के छात्र छात्रा विभिन्न क्षेत्रों में अपना उम्दा प्रदर्शन

शिकायतों का मौके पर जाकर निस्तारण करें अधिकारीः डीएम

  • शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बरतने पर होगी कडी कार्रवाई, कलेक्ट्रेट में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित 


निशुतोष सरोहा

शामली। मंगलवार को डीएम जसजीत कौर की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। डीएम ने फरियादियों की समस्याओं को सुनकर संबंधित अधिकारियों को मौके पर जाकर निस्तारण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस अवसर पर 40 शिकायतें आई जिनमें से मात्र एक का ही निस्तारण हो सका।

जानकारी के अनुसार मंगलवार को कलेक्टेªट सभाकक्ष में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में डीएम ने समस्याएं सुनते हुए कहा कि जो शिकायतें बार-बार आ रही हैं, संबंधित अधिकारी उनका संज्ञान लेकर खुद मौके पर जाकर उनका निस्तारण कराएं ताकि फरियादियों को बार-बार चक्कर न लगाना पडे। यदि इसके बावजूद भी फरियादियों की शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बरती जाती है तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कठोर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी जिसके लिए वे स्वयं जिम्मेदार होंगे। संपूर्ण समाधान दिवस में 40 शिकायतें निस्तारण को पहुंची जिनमें से मात्र एक का ही निस्तारण हो पाया। डीएम ने जनपद में मिशन रोजगार अभियान चलाए जाने के संबंध मे विभाग के अधिकारियों को अपने-अपने कार्यालय में एक रोजगार हेल्प डेस्क स्थापित करने, विभागीय कार्य योजना तैयार कर सेवायोजन अधिकारी को उपलब्ध कराने एवं अन्य जो कार्य होने हैं उसमें प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित करने के साथ ही जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम योजना के तहत जो जनपद में जो भी कार्य किए जाने हैं उसमें प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित करते हुए संबंधित विभाग के अधिकारियों को अपनी कार्ययोजना बनाकर जिला अल्पसंख्यक अधिकारी को उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए। इस मौके पर एसपी सुकीर्ति माधव, सीडीओ शंभूनाथ तिवारी, एसडीएम संदीप कुमार आदि भी मौजूद रहे। 

Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव