वेंक्टेश्वरा में ’’राष्ट्रीय बालिका दिवस’’ पर ’मातृशक्ति सम्मान समाराह’ एवं ’बेटी बचाओ-बेटी पढाओ’’ शपथ समारोह

Image
जिस देश में कन्या को दुर्गा के रुप में पूजा जाता है, वहां कन्या भ्रूण हत्या सिर्फ एक कानूनी अपराध नहीं बल्कि एक राष्ट्रीय अभिशाप-डाॅ0 सुधीर गिरि  आज हम मातृशक्ति को सम्मानित करते हुए खुद को गौरान्वित महसूस कर रहे है- डाॅ0 राजीव त्यागी अनीस खान यूरेशिया ब्यूरो मेरठ। राष्ट्रीय बालिका दिवस पर राष्ट्रीय राजमार्ग बाईपास स्थित वेंक्टेश्वरा संस्थान में अलग-अलग क्षेत्रो में उल्लेखनीय/उत्कृष्ट कार्य करने वाली 22 छात्राओ एवं महिला शिक्षिकाओ को स्मृति चिन्ह एवं पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर प्रतिकुलाधिपति डाॅ0 राजीव त्यागी ने उपस्थित स्टाॅफ एवं छात्र-छात्राओ को ’’बेटी बचाओ-बेटी पढाओ’’ की शपथ दिलाकर सभी से ’’महिला सशक्तिकरण अभियान के महाकुम्भ में अपना सक्रिय योगदान देने की अपील की। राष्ट्रीय बालिका दिवस पर ’’वेंक्टेश्वरा संस्थान के अब्दुल कलाम आजाद सभागार में ’’मातृशक्ति सम्मान समारोह एवं ’’बेटी बचाओ-बेटी पढाओ शपथ समारोह का शुभारम्भ विश्वविद्यालय के चेयरमैन डाॅ0 सुधीर गिरि, प्रतिकुलाधिपति डाॅ0 राजीव त्यागी, कुलपति प्रो0 पी0 के0 भारती, नर्सिंग प्रिंसीपल डाॅ0 एना ब्राउन ने सरस्वती माँ

विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता के कार्यालय पर ताला लगा भाकियू ने किया प्रदर्शन

  • किसानों के निजी नलकूपों के रीडिंग से ज्यादा आ रहे बिल
  • भाकियू ने कहा किसानों का उत्पीड़न नहीं होगा बर्दाश्त


युरेशिया संवाददाता

बेहट,(सहारनपुर) विद्युत विभाग की लापरवाही के चलते निजी नलकूपों के गलत बिल आने के विरोध में भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष चौधरी चरण सिंह के नेतृत्व में अधिशासी अभियंता के कार्यालय पर ताला लगाकर धरना प्रदर्शन किया गया अधिशासी अभियंता के आश्वासन के बाद धरना प्रदर्शन स्वागत किया गया।

 भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष चौधरी चरण सिंह ने कहा कि विद्युत विभाग के अधिकारियों द्वारा किसानों के निजी नलकूपों के रीडिंग से ज्यादा बिल भेजे जा रहे हैं उन्होंने कहा कि किसानों का उत्पीड़न किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग के अधिकारी द्वारा अगर अपना रवैया नहीं बदला तो किसान यूनियन विद्युत विभाग के अधिकारियों को बंधक बनाकर प्रदर्शन करेगी किसानों के बीच में पहुंचे अधिशासी अभियंता योगेंद्र सिंह द्वारा किसानों को आश्वासन दिया गया कि उनके बिल सही करा दिए जाएंगे और आगे भी बिलों में गलती नहीं होगी अधिशासी अभियंता के आश्वासन के बाद धरना प्रदर्शन समाप्त हुआ इस अवसर पर मुख्य रूप से सुरेंद्र कांबोज, मास्टर रघुवीर सिंह, सुरेश चौहान, सोहनवीर सिंह, अरविंद कुमार, संजय प्रधान, राजीव कुमार, शिवकुमार, विपिन कुमार, हरि गोपाल सिंह, सचिन, जय वीर आदि मौजूद रहे।

Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव