2 6 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली पर आदेश पारित करना हमारा काम नहीं : सुप्रीम कोर्ट

Image
नयी दिल्ली  (एजेंसी)।  सुप्रीम कोर्ट ने 26 जनवरी की प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली को लेकर दायर याचिका पर केंद्र सरकार से कहा कि आप प्राधिकार हैं और आपको इससे निपटना है, इसपर आदेश पारित करना अदालत का काम नहीं है। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा 26 जनवरी को किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली को पुलिस का मामला बताए जाने के बाद मामले में न्यायालय से हस्तक्षेप के अनुरोध वाली याचिका वापस ली।

21 दिसम्बर की रैली की तैयारी तेज़, अमित जानी ने किया दर्जनों गांव में लोगों से जनसंपर्क



अनीस खान यूरेशिया ब्यूरो

 मेरठ ।जानी / रोहटा     21 दिसम्बर की प्रस्तावित किसान नौजवान रैली की तैयारी जोर पकड़ने लगी है, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी ने आज कुशेडी, पस्तरा, गून, गेझा, चंदौरा, पंचगांव, धौलड़ी नारंगपुर, कैथवाड़ी, करनावल, रसूलपुर जाहिद आदि गांवों में सभाएं और पदयात्राएं कर के 21 दिसम्बर की रैली में लोगो से पहुंचने की अपील की.. 

इस दौरान अमित जानी सिवालखास हाईस्कूल पहुंचे जहां उन्होंने देखा कि बच्चियों के बैठने के लिए दरिया तक नही है, स्कूल के ब्लैकबोर्ड तक उखड़े पड़े है, उन्होंने सिवाल हाईस्कूल की प्रिंसिपल मीणा कुमार यादव से कहा क्या सरकार से मदद नही आ रही? अमित जानी ने तुरंत सिवाल हाईस्कूल को नकद 50 हजार की आर्थिक मदद  दी। धौलड़ी पदयात्रा के दौरान अमित जानी एक्सीडेंट पीड़ित जब्बार, इरशाद, अमजद और माजिद के निवास् पे पहुंचे चारो ही युवकों की पेड़ से गिरने के कारण रीढ़ की हड्डी और टाँग टूट गयी थी, अमित जानी ने उनको अपनी तरफ से 5100- 5100 की आर्थिक मदद की। अमित जानी ने लोगो को भरोसा दिलाया कि  भले ही उनके नेता और जनप्रतिनिधियों द्वारा उनकी दुख की घड़ी में कितनी भी नजरअंदाजि की जाए लेकिन वे बिना विधायक सांसद भी उनसे अधिक मदद करने में सक्षम है ।  अमित जानी ने कहा कि 21 दिसम्बर को सिवाल रैली में 1 लाख से अधिक लोग शामिल हुए तो वे जनवरी तक क्षेत्र में जनता को इतना काम करके दे देंगे जितना आज तक कोई विधायक बनने के बाद भी नही कर सका, अमित जानी ने बताया कि युवाओं के लिए फ्री कॉचिंग, मुफ्त इलाज, 10 हजार लोगों के रोजगार और प्रत्येक बेसहारा गरीब के 1 रुपये से 1 लाख तक के खर्चे तक इलाज का जिम्मा मेरा है, शिवपाल सिह यादव जी सिवालखास क्षेत्र को लेकर गंभीर है इसीलिए पूरे उत्तर प्रदेश के सारे शहरों को छोड़ के उन्होंने अपनी पहली रैली सिवाल में ही रखी है, 21 दिसंबर की रैली कई मायनों में महत्वपूर्ण है अमित जानी ने व्यक्तियों से कहा कि इस रैली को ऐतिहासिक बनाना है ।

Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव