फलावदा क्षेत्र के गांव रसूलपुर में विस्फोट से उड़ गई कई घरों की छत, दो की मौत, दर्जनों घायल

डॉ0 असलम/युरेशिया
मवाना।  फलावदा क्षेत्र के गांव रसूलपुर में मंगलवार देर रात अचानक विस्फोट होने से चार मकानों की छतें उड़ गईं। घटना से इलाके में दहशत फैल गई। वहीं मलबे में कई परिवार दब गए। दर्जनों लोगों के घायल होने की सूचना है। पुलिस मौके पर पहुंच गई है। घायलों को मलबे से निकालकर अस्पताल भेजा जा रहा है। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई है। 
जानकारी के अनुसार फलावदा क्षेत्र के गांव रसूलपुर में साबिर, एजाज,निसार, सलेक के मकान पास-पास ही बने हुए हैं। यहां मंगलवार को निसार के मकान में अचानक भीषण धमाका हुआ, जिसके चलते चारों मकानों की छतें उड़ गईं। भीषण विस्फोट में चारों परिवारों के कई लोग दब गए। 
हादसे की जानकारी लगते ही ग्रामीण मौके पर एकत्र हो गए और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर एक परिवार के चार लोगों को मलबे से निकालकर उपचार के लिए भेजा। वहीं पुलिस मलबे में दबे अन्य लोगों को भी निकालने में जुटी है।
पुलिस के अनुसार मलबे में एक ही परिवार के चार लोग दब गए। इनमें साबिर, साबिर की पत्नी अफसाना, पुत्री महविश और नरगिस, पुत्र अयान शामिल हैं। मलबे से साबिर को छोड़कर बाकी लोगों को बाहर निकाल लिया गया है। साबिर की तलाश जारी है। मलबे में दबने से निसार व उसके पुत्र फैसल की मौके पर ही मौत हो गई।
प्राथमिक जांच पड़ताल में पटाखों की वजह से विस्फोट होने की बात सामने आई है, वहीं कुछ स्थानीय रहवासी सिलेंडर फटने को विस्फोट की वजह बता रहे हैं। पुलिस घटनास्थल पर जांच में जुटी है। बताया गया कि विस्फोट इतना जबरदस्त था कि तकरीबन दो किलोमीटर दूर स्थित महलका गांव में भी तेज आवाज से मकानों के दरवाजे तक हिल गए। फिलहाल पुलिस ने घायलों को पल्लवपुरम अस्पताल में भर्ती कराया है। फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंच गई है।

Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट