पत्रकार को धमकी देने वाले बिल्डर के खिलाफ केस दर्ज़,बिल्डर व गुर्गे फरार

युरेशिया नई दिल्ली। विश्व पत्रकार महासंघ दिल्ली प्रदेश ने मध्य जिला पुलिस उपायुक्त संजय भाटिया व एडिशनल डी सी पी रोहित कुमार मीणा को ज्ञापन व मांग पत्र सौंप कर पत्रकार मणि आर्य को धमकी देने वाले बिल्डर के खिलाफ मुकदमा दर्ज़ करके कार्रवाई की मांग की थी। पत्रकार मणि आर्य ने दिल्ली के पहाड़गंज में बाराही माता मंदिर में चल रहे अवैध निर्माण और निगम में फैले भ्रष्टाचार और भू - माफिया बिल्डर द्वारा सरकारी भूमि पर कब्जे को लेकर खबर को प्रकाशित की थी। जिसके बाद अब दिल्ली पुलिस ने सच दिखाकर प्रशासन को जगाने वाले स्थानीय पत्रकार मणि आर्य को धमकी देने वाले बिल्डर व उसके गुर्गों के खिलाफ नबी करीम थाना पुलिस भारतीय दंड सहिंता की धारा 506 के अंतर्गत रिपोर्ट संख्या 0013/2020 के तहत ने जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज़ कर लिया है। केस दर्ज़ होने की भनक लगते ही गिरफ्तारी के डर से आरोपी बिल्डर और उसके कई गुर्गे भूमिगत हो गए हैं। गौरतलब है की स्थनीय जनप्रतिनिधियों से सांठगांठ करके बिल्डर बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण करने में माहिर माना जाता है इसलिए निगम पार्षद से लेकर महापौर तक मंदिर पर अवैध निर्माण को

तिरुपति बालाजी कन्या महाविद्यालय खजूरी मेँ महिलाओं एवं  बालिकाओं की आत्म सुरक्षा, सम्मान हेतु मार्शल  आर्ट  प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन


नौशाद सैफी/युरेशिया


 परीक्षितगढ़, तिरुपति बालाजी कन्या महाविद्यालय खजूरी की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई  द्वारा कार्यक्रम  अधिकारी और मुस्कुराएगा इंडिया मिशन की  मानसिक सलाहकार डॉ  भावना शर्मा  के निर्देशन मेँ  मिशन शक्ति अभियान के तहत गुरवार को   महिलाओं एवं  बालिकाओं की आत्म सुरक्षा, सम्मान हेतु मार्शल  आर्ट  प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन महाविद्यालय मेँ किया गया l सरस्वती माँ  की  उपासना माल्यार्पण  और दीपप्रज्वलन के  उपरांत कार्यक्रम  प्रारम्भ  किया गया जिसमें अन्तर्राष्ट्रीय गोल्ड  मेडलिस्ट  विनीत, नेशन कोच अजय उपाध्याय, ब्लैक बेल्ट जगदीश  पवार, राष्ट्रीय  मेडलिस्ट कु इमला और  नेशनल  गोल्ड मेडलिस्ट कु  सलोनी द्वारा  प्रशिक्षण  दिया गया l  गाँव के छेत्र  मेँ लड़कियों  के लिए  इस प्रकार के प्रशिक्षण  को पाकर  बालिकाओं  मेँ उत्साह और प्रसन्नता  देखने को मिली डॉ भावना  शर्मा  ने कहा -
 अपमान ना कर नारी का   


इनके  बल पर जग  चलता है 
 पुरुष  भी तो जन्म  लेते  ही 
 इनकी गोद मेँ  किलकारी  भरताहै* 
प्राचार्य  डॉ ओमकार त्यागी जी  ने बालिकाओं को अपने अधिकारों के प्रति आवाज़ उठाने  और आत्मविश्वास  पैदा  करने के लिए प्रेरित किया
इस कार्यशाला मेँ 35 स्वमसेविकाओं ने भाग लिया और बड़े  उत्साह के साथ  अपनी सुरक्षा के  दावपेच  सीखे इनमे इंदु, ज्योति, अंजलि, रितिका, तनु, सोनिया, पूजा सोनिका, मोनिका, भारती चाहत, फराह  ने बढ़  चढ़ कर भाग लिया संस्थापक डॉ एम पी  त्यागी जी ने सभी का आभार व्यक्त किया, महाविद्यालय  कर्मचारी रमेश जी, कृष्णा  जी और अमित  कुमार का सहयोग रहा


Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां