राजकीय  महाविद्यालय में हुआ राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन 


राष्ट्रीय वेबिनार में भाग लेते प्रोफेसर 


अरविन्द सिसौदिया/युरेशिया संवाददाता


नानौता (सहारनपुर), नगर के राजकीय महाविद्यालय में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 20 20 आत्मनिर्भर भारत की और एक कदम विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया। जिसमे उत्तराखंड बिहार उत्तर प्रदेश पंजाब महाराष्ट्र हरियाणा आदि से प्राध्यापकों, शिक्षाविदों व शोधकर्ताओं ने सक्रिय प्रतिभाग किया। इस दौरान वक्ताओं द्वारा शिक्षा को ओर बेहतर बनाने पर अपने विचार एक दूसरे से सांझा किये।               


रविवार को राजकीय महाविद्यालय नानौता की ओर से गूगल मीट एवं फेसबुक लाइव पर आयोजित वेबिनार राष्ट्रीय सचिव डॉ राजेश कुमार ने मुख्य अतिथि क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी मेरठ डॉ राजीव कुमार गुप्ता तथा वेबीनार में रिसोर्स पर्सन के रुप में सम्मिलित वक्ताओं का स्वागत किया। वेबिनार मैं डॉ राजीव कुमार गुप्ता ने नई शिक्षा नीति के साथ प्रमुख बिंदुओं को रेखांकित करते हुए शिक्षण संस्थाओं में अकादमिक कार्य को संपन्न किए जाने की आवश्यकता पर बल दिया। वेबिनार के मुख्य वक्ता ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय दरभंगा विश्वविद्यालय के प्रोफेसर अनीस अहमद ने शिक्षा को रोजगार परख बनाए जाने की आवश्यकता बताते हुए कौशल विकास की महत्व को स्पष्ट किया। वेबिनार में श्री देव सुमन विश्वविद्यालय ऋषिकेश के जंतु विज्ञान के एसोसिएट प्रोफेसर डॉक्टर देव मणि त्रिपाठी ने अपने संबोधन में प्रभावी कक्ष शिक्षण की महत्वता को रेखांकित किया। गवर्नमेंट कॉलेज आफ एजुकेशन चंडीगढ़ मैं एसोसिएट प्रोफेसर डॉ शिवजी सिंह ने मूल्य शिक्षा के महत्व को स्पष्ट करते हुए संपूर्ण शिक्षा प्रणाली आध्यात्मिक एवं सार्वभौम मानवीय मूल्यों के साथ जोड़ने का आह्वान किया। महात्मा गांधी हिंदी विश्वविद्यालय वर्धा में शिक्षा शास्त्र के एसोसिएट प्रोफेसर शिरीषपाल सिंह ने शिक्षण पद्धति को वर्तमान युग में और समय की आवश्यकता के अनुरूप बनाए जाने की आवश्यकता पर बल दिया। इस वेबीनार में एमएमएच कॉलेज के डॉ राकेश राणा, दिल्ली विश्वविद्यालय के डॉ अजय कुमार, डॉ श्वेता कुमार ने भी संबोधित किया। वेबिनार में महाविद्यालय की जंतु विज्ञान प्राध्यापिका एवं से आयोजन सचिव डॉ इंदु ने संचलक की भूमिका निभाई। वेबिनार में मुख्य रूप से राजकीय महाविद्यालय नानौता से डॉक्टर परविंद्र कुमार, डॉ योगेंद्र कुमार, डॉ मनीष कुमार, डॉ गरिमा चौधरी, डॉ प्रमोद सिंह चौहान, डॉ अजय कुमार बिंद, डॉ कुलदीप सिंह के साथ बिहार, उत्तराखंड, पंजाब, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, हरियाणा आदि से काफी संख्या में शिक्षाविदों, शोधकर्ताओं ने सक्रिय प्रतिभाग किया। गूगल मीट एवं फेसबुक लाइव के वेबिनार आयोजन में संदीप कुमार एवं विवेक कुमार ने विशेष तकनीकी सहयोग प्रदान किया।

Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट