प्रकृति वंदन कार्यक्रमः हिन्दू आध्यात्म, सेवा संस्थान एव आरएसएस मेरठ प्रान्त से 50000 स्वय सेवकों ने लिया भाग


  • हमें प्रकृति का उपभोग नहीं बल्कि उसकी देखभाल भी करनी हैः मोहन भागवत



यूरेशिया संवाददाता


मेरठ । हिन्दू आध्यात्म एवं सेवा संस्थान और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ , पर्यावरण संरक्षण गतिविधि द्वारा देशभर में प्रकृति वन्दन कार्यक्रम आयोजित किया गया । जिसमें सम्मिलित होने के लिये देशभर में लोगों द्वारा पंजीकरण कराया गया । मेरठ प्रान्त में भी प्रकृति वन्दन कार्यक्रम में 50000 से अधिक लोगों ने भाग लिया । लोगों ने प्रत्यक्ष प्रकृति को साक्षात मानकर भिन्न - भिन्न प्रकार के पेड़ - पौधों समक्ष बैठकर परिवार सहित पूजन किया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ . मोहनराव भागवत ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि वर्तमान परिस्थिति में हमारी जीवन शैली प्रकृति के अनुरूप नहीं है । प्रकृति को जीत कर मनुष्य जीना चाहता है । व्यक्ति का कोई दायित्व प्रकृति के लिये नहीं हैं । प्रकृति के पूरे उपयोग पर हमारा अधिकार है , ऐसा मानकर भले ही चाहे हम पिछले 200-250 वर्षों से ऐसे ही जीते आ रहे हैं परन्तु इसके परिणाम अब सबके सामने है अगर ऐसे ही चलता रहा तो प्रकृति नहीं रहेगी और ना ही हम रहेंगे। अब इसका चिन्तन करते हुए मनुष्य को प्रकृति का संरक्षण करना है । इसलिये यह प्रकृति वन्दन कार्यक्रम मनाया गया। मेरठ प्रान्त के कार्यक्रम में मेरठ , बागपत , शामली , मुजफ्फरनगर , सहारनपुर , बिजनौर , मुरादाबाद , रामपुर , सम्भल , बुलन्दशहर , गौतमबुद्धनगर , गाजियाबाद , हापुड जिलों के लगभग 50000 से अधिक लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराकर कार्यक्रम में भाग लिया । 
मेरठ जिले में क्षेत्र संघचालक सूर्यप्रकाश टाक , शंकर आश्रम पर प्रान्त प्रचारक धनीराम , केशव भवन पर पर्यावरण संरक्षण गतिविधि के प्रान्त संयोजक राम अवतार , हिन्दू जागरण मंच के प्रान्त संयोजक गोपाल , जिला प्रचारक ललित शंकर, पर्यावरण संरक्षण गतिविधि के जिला संयोजक सुधीर त्यागी ,पर्यावरण गतिविधि की जिला मातृशक्ति प्रमुख ममता चौधरी 10000 परिवारों ने प्रकृति वन्दन कार्यक्रम में भाग लिया ।


Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट