केनरा बैंक(पूर्व सिंडिकेट) की ब्रांच का हुआ शुभारंभ

Image
फोटो परिचय:-शुभारंभ करते हुए रीजनल मैनेजर देवराज सिंह  डॉ असलम यूरेशिया बहसूमा। नगर के हसापुर रोड पर केनरा बैंक सिंडिकेट की ब्रांच स्थानांतरण करने के बाद शुभारंभ किया गया। शुभारंभ करने के बाद रीजनल मैनेजर देवराज सिंह ने कहा कि केनरा बैंक की नई जगह ब्रांच खोलने से ग्राहकों को परेशानी का सामना करना नहीं पड़ेगा। आसानी से अपना पैसा जमा या निकाल सकते हैं। अलग-अलग जमा करने एवं निकालने की डेक्स बनाई गई है। जिससे ग्राहकों को आसानी से पैसा जमा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 114 वर्ष पूर्व हमारे संस्थापक अंबेबल सुब्बाराव पई मंगलूर कर्नाटक में एक संस्थान की न्यू रखी गई जो कि आज भारत के प्रमुख वाणिज्यिक बैंकों में से एक है और 1910 में केनरा बैंक के रूप में पल्लवित हुआ। उन्होंने कहा कि सुब्बाराव पई एक महान मानव प्रेमी होने के साथ-साथ समाजसेवी भी थे। जिनके विचारों में एक अच्छा बैंक ने केवल समाज का वित्तीय हृदय होता है। उन्होंने कहा कि केनरा बैंक की 10403 शाखाएं और 13406 एटीएम जो 8.48.00.000 लोगों से ज्यादा बढ़ते आधार की सभी जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। विदेश में बैंक की 8 शाखाएं हैं। डिविजनल मैनेजर अनुर

आठ माह से गुमशुदा वृद्ध महिला को  बिनौली पुलिस ने परिजनों से मिलवाया


थाना बिनौली पुलिस द्वारा 08 माह से गुमशुदा हुई बुजुर्ग महिला को परिवार से मिलवाया


विश्व बंधु शास्त्री
बागपत। बिनौली थाना प्रभारी निरीक्षक रवेन्द्र सिंह ने बताया कि पुलिस गश्त के दौरान बडौत-मेरठ रोड पर बिनौली स्थित एक रिसोर्ट के पास एक महिला जिसके सिर मे चोट लगी हुई घायल अवस्था में मिली। उन्होंने बताया कि महिला का सीएचसी बिनौली मे प्राथमिक उपचार कराया गया। महिला के होश मे आने पर पूछताछ करने पर महिला ने अपना नाम श्रीमती सरोज निवासी ग्राम उडेरी जनपद एटा बताया।  इसके बाद सी-प्लान के माध्यम से ग्राम उडेरी के राजुद्दीन के मोबाइल नंबर पर वार्ता की गयी। राजुद्दीन ने महिला सरोज के परिजनों से बात कर उसके पुत्र बन्टी का मोबाइल नम्बर पुलिस को उपलब्ध कराया। इसके बाद थाना पुलिस ने बन्टी से बातचीत की। पुलिस के अनुसार, बन्टी ने बताया गया कि उसकी माताजी की दिमागी हालत खराब है, जो जनवरी 2020 से बिना बताये घर से चली गयी थी। तब से वे उसकी लगातार तलाश कर रहे थे, लेकिन कोई पता नही चल सका था। इससे पहले भी एक बार घर से चली गयी थी, तथा एक सप्ताह बाद वापस घर आ गयी थी। परिजनों को थाना बिनौली पर बुलाकर उनकी माँ को उनके सुपुर्द कर दिया गया।


Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां