2 6 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली पर आदेश पारित करना हमारा काम नहीं : सुप्रीम कोर्ट

Image
नयी दिल्ली  (एजेंसी)।  सुप्रीम कोर्ट ने 26 जनवरी की प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली को लेकर दायर याचिका पर केंद्र सरकार से कहा कि आप प्राधिकार हैं और आपको इससे निपटना है, इसपर आदेश पारित करना अदालत का काम नहीं है। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा 26 जनवरी को किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर रैली को पुलिस का मामला बताए जाने के बाद मामले में न्यायालय से हस्तक्षेप के अनुरोध वाली याचिका वापस ली।

विम्स में रिकार्ड सफलता के साथ आज फिर 17 कोरोना संक्रमित मरीज हुए स्वस्थ


  • ’’वेक्टेश्वरा संस्थान एवं विम्स मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल की पूरी टीम प्रधानमन्त्री जी के ’’कोरोना मुक्त भारत मिशन’’ के लिए पूरी तरह एकजुट- डॉ0 सुधीर गिरि, चेयरमैन, वेंक्टेश्वरा समूह।

  • -शत्-प्रतिशत स्वस्थ रिकवरी रेट के साथ अभी तक सभी 125 संक्रमित मरीज हुए स्वस्थ- डॉ0 राजीव त्यागी,



यूरेशिया संवाददाता


मेरठ/गजरौला। ’’विम्स मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल ने सफलता के सभी रिकोर्ड तोडते हुए जनपद को कोरोना मुक्ति की राह दिखा दी है। कोरोना के सफलतम उपचार में देश एवं दुनिया के सभी नामचीन हॉस्पिटल को पीछे छोड़ते हुए वेंक्टेश्वरा समूह के विम्स मल्टीस्पेशियलिटी हॉस्पिटल ने आज फिर शत्-प्रतिशत स्वस्थ रिकवरी के साथ 17 कोरोना संक्रमित मरीजो की रिपोर्ट निगेटिव आने पर उनको उपहार एवं सर्टिफिकेट देकर उनके घरो को भेज दिया। विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ0 सुधीर गिरि ने बताया कि किसी भी सरकारी सहायता के बिना अभी तक सभी 125 कोरोना मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके है। यह ’’विम्स’’  के डाक्टर्स/पैरामेडिकल/नर्सिंग स्टॉफ एवं जिला प्रशासन की टीम के रात-दिन अथक प्रयासो के कारण सम्भव हो पाया है। हम आदणीय प्रधानमन्त्री जी के ’’कोरोना मुक्त’’ भारत मिशन को सफल बनाने में पूरी तरह उनके साथ खड़े है।
उत्तर प्रदेश शासन के नोडल अधिकारी डॉ0 अद्योपन्त ने ’’विम्स’’ की चिकित्सीय एवं खानपान सेवाओ की जमकर प्रशंसा करते हुए इसकी प्रगति रिपोर्ट शासन को भेजकर शासन से सहायता उपलब्ध कराने की बात कही है। उन्होने कहा कि देश के नामचीन हॉस्पिटल को पीछे छोडते हुए ’’विम्स’’ ने कोरोना उपचार में सफलता की नयी इबारत लिख दी है।
विश्वविद्यालय के प्रतिकुलाधिपति डॉ0 राजीव त्यागी ने बताया कि अभी तक ’’विम्स’’ ने शासन से बिना किसी सहायता के 125 मरीजो को पूरी तरह स्वस्थ करके उनके घर भेज दिया है। जो अपने आप में एक अनूठा रिकार्ड है। इस अवसर पर कुलपति डॉ0 पी0के0 भारती, कुलसचिव डॉ0 पीयूष कुमार पाण्डे, उपनिदेशक दूरस्थ शिक्षा डॉ0 अलका सिंह, डॉ0 अतुल अग्रवाल, डॉ0 प्रेम सागर साहनी, अरूण कुमार गोस्वामी, नर्सिंग हेड पोलिन मीडिया प्रभारी विश्वास राणा उपस्थित रहे। 


Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव