राष्ट्रगान में बदलाव के लिए सुब्रमण्यम स्वामी ने पीएम को लिखा पत्र, ट्विटर पर लिखा ये पोस्ट

नई दिल्लीः बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने राष्ट्रगान में बदलाव के लिए पीएम मोदी को पत्र लिखा है. स्वामी ने पीएम मोदी को भेजे गए इस पत्र को ट्विटर पर भी शेयर किया है. उन्होंने खत में कहा है कि राष्ट्रगान 'जन गण मन...' को संविधान सभा में सदन का मत मानकर स्वीकार कर लिया गया था. उन्होंने आगे लिखा है, 26 नवंबर, 1949 को संविधान सभा के आखिरी दिन अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद ने बिना वोटिंग के ही 'जन गण मन...' को राष्ट्रगान के रूप में स्वीकार कर लिया था. हालांकि, उन्होंने माना था कि भविष्य में संसद इसके शब्दों में बदलाव कर सकती है. स्वामी ने लिखा है कि उस वक्त आम सहमति जरूरी थी क्योंकि कई सदस्यों का मानना था कि इस पर बहस होनी चाहिए, क्योंकि इसे 1912 में हुए कांग्रेस अधिवेशन में ब्रिटिश राजा के स्वागत में गाया गया था.

बूध सत्यापन की बैठक आयोजित

मवाना (डा0 असलम खान)।  छोटा मवाना स्थित जिला पंचायत के डाक बंगले पर हस्तिनापुर विधानसभा के मवाना पूरे मंडल के बूथों के सत्यापन के लिए एक बैठक आयोजित की गयी।
          बैठक में मवाना पूर्वी मंडल के प्रभारी  कृष्ण पाल कश्यप  क्षेत्रीय सह संयोजक पंचायत प्रकोष्ठ पश्चिम उत्तर प्रदेश ने पार्टी द्वारा चलाए गए बूथ समिति सत्यापन अभियान 2020 के बारे में पार्टी कार्यकर्ताओं को बताया वैश्विक बीमारी कोरोना के चलते हुए कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए बूथ समिति सत्यापन का कार्य किया जाएगा कार्यक्रम की अध्यक्षता मवाना पूर्वी मंडल अध्यक्ष सत्येंद्र काकरान ने की संचालन मंडल महामंत्री अतुल भाटी ने किया। कार्यक्रम में कपिल कुमार शर्मा, विश्वकर्मा मोड़ खुर्द, सेक्टर प्रभारी मंडल महामंत्री बबरे चौहान, कुणाल कौशिक , अमरपाल सिंह राजकिशोर त्यागी, अनुज खटीक, रेहमापुर सेक्टर प्रभारी डॉ अभय अर्जुन सिंह,  सभी सेक्टर संयोजक सेक्टर प्रभारी आदि उपस्थित रहे।


Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां