उपभोक्ताओं ने डीलरों पर लगाया राशन न देने का आरोप



  • मामला संज्ञान में आने पर डीएसओ ने जांच रिपोर्ट मांगी


यूरेशिया संवाददाता


फलावदा-नगर के राशन डीलरों पर राशन ना देने का आरोप लगाते हुए नगर पंचायत कार्यालय पर पहुंचकर राशन उपभोक्ता शबनम, सायमा, शमशीदा, शहाना, अस्सो, राजबीरी, राजबाला, गुलशन, अलबिया, अनीता, सुरेश आदि ने हंगामा कर दिया। राशन उपभोक्ताओं ने राशन डीलर आशीष रस्तौगी व शब्बीर अहमद पर आरोप लगाया कि नगर पंचायत द्वारा 6 व 7 जून को राशन देने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए पर्ची जारी की गई थी। राशन डीलर द्वारा पर्ची होने के बावजूद भी उपभोक्ताओं को राशन नहीं दिया गया। राशन उपभोक्ताओं ने आरोप लगाया कि राशन डीलर व सप्लाई इंस्पेक्टर की मिलीभगत से  राशन वितरण करने से पूर्व ही  राशन को ब्लैक कर दिया जाता है। जबकि  लॉकडाउन के दौरान  राशन कार्ड धारकों को  नियमानुसार राशन वितरण किया जाना चाहिए। उपभोक्ताओं ने आरोप लगाया कि कई बार  राशन डीलरों की  शिकायत आला अधिकारियों से की जा चुकी है। लेकिन राशन डीलरों के खिलाफ कोई विभागीय कार्यवाही  नही हुई है। राशन डीलरों पर कार्यवाही ना होने से खाद्य विभाग के अधिकारी भी संचय के घेरे में है। राशन उपभोक्ताओं की समस्या को सुनते हुए नगर पंचायत के सभासद सोहनवीर सैनी, सलीम, आरिफ कुरैशी, निजामुद्दीन आदि ने नगर पंचायत पर तैनात कर्मचारियों से राशन उपभोक्ताओं की समस्या का समाधान करने की मांग रखी। समस्या का समाधान ना होने पर सभासदों ने डीएसओ को फोन कर राशन डीलर व सप्लाई इंस्पेक्टर की मिलीभगत से राशन उपभोक्ताओं को राशन ना देने का आरोप लगाते हुए शिकायत की। डीएसओ ने सभासदों को आश्वासन दिया कि जिन राशन उपभोक्ताओं को राशन नहीं मिल पाया है। ऐसे उपभोक्ताओं की सूची तैयार कर राशन दिलाया जाएगा। राशन डीलर की जांच कराकर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।


Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट