शैली बैंसला को शहीद का दर्जा व नौकरी की मांग


यूरेशिया संवाददाता
मवाना-रामपुर घौरिया गांव में सपा जिला उपाध्यक्ष गुर्जर मोनू पवार ने एक पत्रकार वार्ता का आयोजन किया। मोनू पवार ने बताया की नोएडा के कुलेसरा गांव की शैली बैंसला जो बहुत गरीब परिवार से थी। दिल्ली पुलिस में दो वर्ष पहले से कार्यरत थी। अपने परिवार की जीवीका चलाने का सहारा थी। दिल्ली पुलिस मे कोरोना काल में देश के लिए सेवा कर अपना फर्ज निभाते हुए उसकी मौत हुई। शैली बैंसला को सरकार से शहीद का दर्जा दिलाए जाने की मांग की। किशोर टांक ने कहा सरकार व दिल्ली पुलिस प्रशासन की ओर से अभी तक कोई प्रतिक्रिया या आर्थिक सहयोग नहीं हुआ जो निंदनीय है। मोनू पवार ने सर्व समाज की ओर से गृहमंत्री अमित शाह व केजरीवाल सरकार से शैली बैंसला को शहीद का दर्जा व शैली की मृत्यु होने के बाद परिवार में कोई कमाने वाला नहीं रहा। उस गरीब परिवार को सहारा देने के लिए एक नौकरी देने की मांग की। किशोर टांक व मोनू पवार ने चेतावनी भी दी। अगर सरकार प्रशासन पीड़ित परिवार की मदद नहीं करेगा तो हम सड़क पर उतर कर पीड़ित परिवार की आवाज उठाने का कार्य करेंगे।


Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट