विनायक विद्यापीठ के छात्र रिकान्त नागर ने राज्य स्तर पर प्राप्त किया प्रथम स्थान

Image
प्रयागराज में आयोजित 54वीं उत्तर प्रदेश राज्य वार्षिक एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं में जीता स्वर्ण पदक युरेशिया विनायक विद्यापीठ महाविद्यालय ने एक बार फिर जीत का परचम लहराकर राज्य स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त किया है। बीए द्वितीय वर्ष के छात्र रिकांत नागर ने प्रयागराज के मदन मोहन मालवीय स्पोर्ट्स स्टेडियम द्वारा आयोजित 54वीं उत्तर प्रदेश राज्य वार्षिक एथलेटिक्स प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन दिया है। रिकांत ने अंडर - 20 इवेंट में 110 हर्डल रेस में प्रथम स्थान प्राप्त कर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। और 400 हर्डल रेस में कांस्य पदक हासिल किया। संस्थान के चेयरमैन डॉ सोमेंद्र तोमर हमेशा ही बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए प्रयासरत रहते हैँ। वह स्वयं भी खेल कूद से जुड़े रहते हैँ व छात्र छात्राओं को भी प्रेरित करते हैँ। रिकांत के इस प्रदर्शन पर उन्होंने विशेष शुभकामनायें प्रेषित की। इस मौके पर संस्थान की प्राचार्या डॉ उर्मिला मोरल ने बुके व सर्टिफिकेट देकर रिकांत को सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि वह बेहद गौरवान्वित महसूस करती हैँ ज़ब भी संस्थान के छात्र छात्रा विभिन्न क्षेत्रों में अपना उम्दा प्रदर्शन

नोडल अधिकारी ने किया सुभारती अस्पताल व श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण


  • नोडल अधिकारी ने वीडियो कॉलिंग के माध्यम से जाना भर्ती मरीजों का हाल, की उनके जल्दी स्वस्थ होने की कामना

  • मरीज के तीमारदारों को मरीज की स्थिति के बारे में आवश्यक रूप से अवगत कराया जाए - पवन कुमार



यूरेशिया संवाददाता 


मेरठ  नोडल अधिकारी पवन कुमार ने आज सुभारती मेडिकल कॉलेज में स्थापित छत्रपति शिवाजी सुभारती अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने वहां चिकित्सा अधीक्षक के कक्ष में जिलाधिकारी व चिकित्सकों के साथ बैठक की। उन्होंने वहां भर्ती मरीजों से वीडियो कॉल के माध्यम से वार्ता की तथा उनका हालचाल जाना व उनके जल्दी स्वस्थ होने की कामना की। नोडल अधिकारी ने श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज का भी निरीक्षण किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।
     नोडल अधिकारी पवन कुमार ने कहा कि कोरोना महामारी का इलाज करा रहे व्यक्तियों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो यह सुनिश्चित किया जाए, उनको अच्छी गुणवत्ता का भोजन उपलब्ध हो । मरीजों के तीमारदारों को मरीजों की स्थिति के बारे में समय-समय पर आवश्यक रूप से अवगत कराया जाए। अस्पताल में साफ सफाई की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। नोडल अधिकारी ने भर्ती मरीज योगिंदर से वीडियो कॉल के माध्यम से बात की।
     उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर की निर्बाध आपूर्ति हो यह सुनिश्चित किया जाए। वही श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के निरीक्षण के दौरान उन्होंने कहा कि अगर किसी मरीज को रेफर किया जाता है तो उसकी संपूर्ण डिटेल के साथ ही उसको रेफर किया जाए। 
 जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने बताया कि छत्रपति शिवाजी सुभारती अस्पताल में 53 मरीज भर्ती हैं तथा श्रीराम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में 75 मरीज भर्ती हैं। उन्होंने बताया कि श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में 100 बेड की क्षमता है, मेडिकल कॉलेज द्वारा फैसिलिटी उपलब्ध कराई गई है तथा डॉक्टर व स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगाया गया है। 
 इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सदर अंकित खंडेलवाल, सुभारती अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ जेपी सिंह, श्री राम आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के डॉ मनीष चंद्र, पीडी डीआरडीए भानु प्रताप सिंह सहित अन्य अधिकारी गण उपस्थित रहे।


Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव