मवाना थाना पर पुलिस के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए 



  • निलोहा के कृष्णपाल की हुई थी हत्या


यूरेशिया संवाददाता


मवाना।  थाना क्षेत्र के गांव निलोहा में गत दिनों हुई किसान कृष्णपाल की हत्या के मामले में दर्ज मुकदमे में फर्जी नामजद करने के आरोप में हत्यारोपी के परिजनों ने मर्डर केस को सही खोलने की मांग को लेकर शनिवार शाम हत्यारोपी के रिश्तेदार वकील ने परिजनों के साथ थाने में पहुंचे ओर तत्कालीन इंस्पेक्टर पर बिना वजह  दबाव बनाकर हत्या में  जेल भेजने के आरोप में जमकर हंगामा प्रदर्शन कर नारेबाजी कर गिरफ्तारी की मांग उठाई।   हंगामा प्रदर्शन करने के बाद बिना गिरफ्तारी दिये वकील ओर पीड़ित थाने के बाहर से चले गये। 
         मवाना थाना क्षेत्र के गांव निलोहा निवासी वृद्ध किसान कृष्णपाल गत दिनों उसके नलकूप पर धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी गई थी। किसान की हत्या के बाद पुलिस ने मोके पर पहुंच कर मामले की गुत्थियों को सुलझाने के लिए एसपी देहात अविनाश पांडेय ने निर्देश दिये थे। एसपी देहात अविनाश पांडेय के निर्देश पर तत्कालीन इंस्पेक्टर राजेन्द्र त्यागी ने किसान कृष्णपाल की हत्या के मामले में शामिल हत्यारोपी पप्पू सैनी को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो आरोपी पप्पू ने घटना को कबूलने के बाद संबंधित धारा में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया था। शनिवार को अपने रिश्तेदार वकील लोकेन्दर आर्य के साथ मवाना थाने पहुंची हत्यारोपी पप्पू सैनी के परिजनों ने मर्डर केस को फर्जी तरीके से खोलने का आरोप लगाते हुए पुलिस के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए ओर अनलाक डाउन में थाने के गेट पर प्रदर्शन किया। पुलिस के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगते देख थाना पुलिस मुख्य द्वार पर पहुंची ओर प्रकरण के बारे में जानकारी ली।


Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट