ओवरलोड ट्रैक्टर ट्रॉलो से हो सकता है बड़ा हादसा

Image
थाने के सामने ट्रैक्टर ट्राला से लगा लंबा जाम। डॉ असलम/यूरेशिया बहसूमा। नगर में ओवरलोड वाहनों पर नहीं लग रहा अंकुश चीनी मिल में सेंट्रल से गन्ना लाने वाले ओवरलोड ट्रैक्टर ट्रॉली नगर में कभी भी बड़े हादसे को आमंत्रित कर सकते हैं नगर के मवाना रामराज रोड मार्ग पर पड़ने वाले सेंटर से मिल में गन्ना जाता है लेकिन ओवरलोड होने के कारण जहां जाम की समस्या रहती है और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है कई बार दुर्घटना भी हो चुकी है ओवरलोड वाहनों पर अंकुश नहीं लग पा रहा है हालांकि पहले सैंटरो  से गन्ना ट्रक से उठाया जाता था। लेकिन अब सेंटर  से गन्ना  ट्रैक्टर  टोला से उठाया  जा रहा है  जिसमें  लगभग वजन  350  कुंटल  के करीब  होता है  जो  बहुत  अधिक है जो  दुर्घटना  को आमंत्रित करता है। संयुक्त व्यापार संघ एसोसिएशन के कई बार अधिकारियों को ज्ञापन देकर ओवरलोड वाहनों पर अंकुश लगाने की मांग कर चुके हैं लेकिन इस और ध्यान नहीं दिया गया इस मामले में थाना प्रभारी शिवदत्त ने बताया कि 2 दिन पूर्व कुछ ओवरलोड ट्रैक्टरों के चालान भी किए जा चुके हैं ओवरलोड वाहनों पर जल्द ही अंकुश लगाया जाएगा

चौगामा किसान क्लब ने किया टिड्डी दल को भगाने का अभ्यास


 विश्व बंधु शास्त्री
बड़ौत। चौगामा क्षेत्र  में टिड्डी दल के आगमन एवं आक्रमण की संभावना के चलते दाहा दाहा गांव के जंगलों में चौगामा किसान क्लब कार्यकर्ताओं ने खेतों में धुंआ कर व बाल्टी कनस्तर आदि बजाकर टिड्डी दल को उड़ाने का रिहर्सल किया।
 चौगामा किसान क्लब के अध्यक्ष मास्टर देवेन्द्र सिंह राणा ने बताया टिड्डी दल आक्रमण से बचाव के लिए गत माह से ही हिंडन व कृष्णा नदी के दोआब चौगामा क्षेत्र में चौगामा किसान क्लब की ओर से क्षेत्र के लगभग 48 गांव को 5 जोन में बांटकर निरपुडा, भडल, धनोरा, तमेंलागढ़ी, फ़ौलादनगर, मिलाना, गैंडबरा, नंगला कनवाडा, पलड़ी, आजमपुर मुलसम, गढ़ी बेगमाबाद, पुसार, बामनौली, इदरीशपुर, आदमपुर, कान्हड़, हिम्मतपुर सूजती, टीकरी, गांगनौली आदि गांवों को मिलाकर  दाहा गांव को  केंद्र बना कर रणनीति तैयार की गई थी। जिस पर आज तक भी किसान तत्पर हैं तथा टिड्डी दल के खात्मे की तैयारी जोर शोर से कर रहे हैं। इसी रणनीति के तहत मंगलवार को दाहा गांव के जंगल में खेत के चारों तरफ धुआं कर तथा उपलब्ध बर्तनों बाल्टी कनस्तर डब्बा लाठी-डंडों के द्वारा शोरशराबा किया। किसान क्लब अध्यक्ष देवेंद्र राणा के नेतृत्व में चले इस अभियान में सुरेंद्र शर्मा, धीरज राणा, बबलू, हरवीर, अमित, इंद्रपाल, रविन्द्र राणा, राजपाल शर्मा, क्लब सचिव सुधीर तोमर, यशवीर राणा, प्रेम सिंह राणा, महिपाल आदि शामिल रहे।


Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव