पार्किंग करवाने में पति की सहायता कर रही भारतीय महिला खुद आ गयी कार के नीचे, कार और दीवार में फंस कर मौत!

Image
 दुबई (एजेंसी) संयुक्त अरब अमीरात के अजमान अमीरात में 45 वर्षीय एक भारतीय महिला की मौत दुर्घटनावश अपने पति के वाहन की चपेट में आने से हो गई। महिला पार्किंग क्षेत्र में कार के सामने खड़ी थी और उसे सही जगह खड़ी करवाने में पति की मदद कर रही थी तभी दुर्घटनावश कार तेजी से आगे बढ़ी, जिससे महिला इसकी चपेट में आ गई। 'द गल्फ न्यूज' ने परिवार के करीबी सूत्र को उद्धृत करते हुए बताया कि लिजी और उनके पति (नाम जाहिर करने की स्वीकृति नहीं है) शनिवार को स्वास्थ्य जांच के लिए एक सामुदायिक अस्पताल गए थे। उमम अल कुवैन में इंडियन एसोसिएशन के अध्यक्ष सज्जाद नट्टिका ने बताया कि लिजी कार के सामने खड़ी थी और अपने पति को उसे सही जगह लगाने के लिए दिशा बता रही थी लेकिन वाहन दुर्घटनावश तेजी से आगे बढ़ गया और इसकी वजह से लिजी चारदीवारी और गाड़ी के बीच फंस गईं। खबर के मुताबिक लिजी और उनके पति दोनों केरल के रहने वाले हैं और उनके दो बच्चे हैं। दंपति का बेटा भारत में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है और वहीं छोटी बेटी यहीं के एक विद्यालय में पढ़ती है। परिवार पिछले एक दशक से यहां रह रहा है। अजमान पुलिस मामले की जा

 भाजपा नेता की सस्ते गल्ले की दूकान हुई निलंबित ..ओर भी कुछ दुकानो पर गिर सकती है गाज  


यूरेशिया संवाददाता


मेरठ- अगर सोचा जाये तो राशन घोटाला सामने आने के बाद भी जिस प्रकार के प्रयास शाशन की और से किये गए थे उन्हे कुछ पूर्ति निरीक्षक की भर्ष्ट राशन डीलरों से मिली भगत के चलते उनमे खुलेआम पलिता लगाया जा रहा है जिससे वो आदेश वो सिर्फ कागजो में ही रह गए। राशन की कुछ दुकाने ठेके पर चलाई जा रही है। जबकि ये नियम के विरुद्ध है। सबकुछ जानते हुए भी आपूर्ति अधिकारी कार्यवाही को तैयार नहीं जिसकी वजह से गरीब जनता को अपने ही हक़ के निवाले के लिए परेशान होना पडता है। यूरेशिया समाचार पत्र ने पूर्व में भी समाचार प्रकाशित कर  अधिकारियों को चेताया था कि पूर्वा अहिरान में पंकज नामक सस्ते गल्ले की दूकान को शास्त्री नगर निवासी सनी ठेके पर चला रहा है और पर्ची काटकर देने के बाद गरीब जनता को उनके ही हक़ के निवाले के लिए आये दिन परेशान कर रहा है। देर से ही सही विभाग की नींद तो खुली.ओर अब पंचशील कालोनी स्थित संतोष कुमारी की दुकान पर बैठने वाला एक आदमी ग्राहकों का खुलकर उत्पीडन कर रहा है कार्ड धारकों का आरोप है राशन के लिये कई कई बार चक्कर कटवाता है. अगर कहा जाये तो आज भी कुछ दुकानों पर जनता का उत्पीड़न हो रहा है। जहां राशन कार्ड होने के बावजूद भी गरीब अपने ही हक़ के निवाले से वंचित है। अब देखना है  क्या ऐसी एजेंसियों पर भी आपूर्ति अधिकारी जांच कर कार्यवाही करेंगे या कुछ राशन डीलर अपनी मन्मानी कर जनता के हक के निवाले पर डाका डालते रहेंगे


Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव