’पराक्रम दिवस (नेताजी सुभाषचन्द्र बोस जयन्ती 23 जनवरी) की पूर्व संध्या पर वेंक्टेश्वरा में ’’नेताजी एक वैचारिक क्रान्ति’’ विषय पर सेमीनार एवं उनके स्वतन्त्रता संघर्ष पर ’’विशाल पोस्टर प्रर्दशनी’’

Image
नेताजी के संघर्ष से मिली अनमोल आजादी को व्यर्थ ना जाने दे युवा- डाॅ0 सुधीर गिरि  आजादी की जंग में निर्विवाद रुप से नेता जी से बड़ा कोई पराक्रमी नहीं- कर्नल अमरदीप त्यागी देश की आजादी के लिए नेताजी का संघर्ष एवं पराक्रम समूचे भारत के लिए वन्दनीय- डाॅ0 बी0एन0 पाराशर युवाओ/छात्रो को नेताजी के जीवन दर्शन एवं संघर्ष गाथा बताने के लिए संस्थान ने अपने पुस्कालय में किया 500 से अधिक पुस्तको का संग्राहलय- डाॅ0 राजीव त्यागी  अनीस खान/ युरेशिया  मेरठ।आज राष्ट्रीय राजमार्ग बाईपास स्थित वेंक्टेश्वरा विश्वविद्यालय/संस्थान में नेताजी सुभाषचन्द्र बोस जयन्ती (पराक्रम दिवस 23 जनवरी) की पूर्व संध्या पर देश की आजादी के सबसे बड़े महानायक आजाद हिन्द फौज के संस्थापक नेताजी के बलिदान को याद करते हुए ’’नेताजी एक वैचारिक क्रान्ति’’ विषय पर सेमीनार का आयोजन हुआ, जिसमें वक्ताओ ने आजादी के लिए नेताजी की संघर्ष गाथा पर सिलसिलेवार प्रकाश डालते हुए इस महान योद्धा की पराक्रम गाथा से उपस्थित स्टाॅफ एवं छात्र-छात्राओ को रुबरु कराया। इसके साथ ही विख्यात शिक्षाविद् एवं आजाद हिन्द सेना मंच से जुड़े डाॅ0 बी0एन0 पाराशर के निर्दे

१५ वर्षीय किशोरी की कोरोना से मौत , आंकडा ४२ पहुंचा 


  •   १४ नये संक्रमित मिले, पांच जेल, दो ट्रैफिक विभाग की कांस्टेबिल शामिल


यूरेशिया संवाददाता


मेरठ। कोरोना के संक्रमण से मरने वालों का आंकडा कम होने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को कोरोना से कंकरख्ेाडा की एक१५ वर्षीय मौत हो गई है।मेडिकल कॉलेज के प्रधानाचार्य डाक्टर एसके गर्ग ने पुष्टि की है।मृतक किशोरी को आज ही कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। जनपद में अब तक कोरोना से 42 लोग जान गंवा चुके हैं।
किशोरी15 वर्ष कंकरखेड़ा की रहने वाली थी।डॉ एसके गर्ग ने बताया कि मेडिकल में मृत अवस्था में आई थी। इससे पहले मंगलवार को मेडिकल कॉलेज में एक दरोगा सहित आठ लोगों की कोरोना से मौत हुई थी। इनमें चार मेरठ के ही थे। बाकी दूसरे जिलों के थे।
बुधवार को १४लोगों को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है।मोदीपुरम में पल्लवपुरम के निजी अस्पताल में 30 वर्षीय महिला निवासी श्रद्धापुरी फेस टू कंकरखेड़ा की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। आठ जून को महिला की डिलीवरी हुई थी। महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया था। डिलीवरी के दौरान अस्पताल की चिकित्सक द्वारा महिला की कोरोना की जांच कराई गई थी। बुधवार को महिला की कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से अस्पताल में हडक़ंप मच गया। जिस रूम में महिला भर्ती थी उसे सील कर दिया गया है। सिविल लाइन के एक सिपाही को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। बताया गया कि सिपाही कल ही छुट्टी से वापस लौटा था। उन्होने बताया पांच संक्रमित जिला कारागार के , दो ट्रैफिक विभाग महिला कर्मी, एक जगदम्बा हॉस्पिटल के कर्मचारी के सम्पर्क में आया एक व्यक्ति शामिल है। जबकि एक आर्मी असफर के कान्टेंक्ट में आया व्यक्ति शामिल है।  सीएमओ डॉ राजकुमार ने इसकी पुष्टि की है। जनपद में अब तक ५५०  लोग संक्रमित हो चुके हैं। इसमें 393 लोग स्वस्थ होकर घर पहुंच चुके हैं। बाकी सभी मरीजों का अलग. अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। जबकि ४२ की मौत हो चुकी है। 


Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव