केनरा बैंक(पूर्व सिंडिकेट) की ब्रांच का हुआ शुभारंभ

Image
फोटो परिचय:-शुभारंभ करते हुए रीजनल मैनेजर देवराज सिंह  डॉ असलम यूरेशिया बहसूमा। नगर के हसापुर रोड पर केनरा बैंक सिंडिकेट की ब्रांच स्थानांतरण करने के बाद शुभारंभ किया गया। शुभारंभ करने के बाद रीजनल मैनेजर देवराज सिंह ने कहा कि केनरा बैंक की नई जगह ब्रांच खोलने से ग्राहकों को परेशानी का सामना करना नहीं पड़ेगा। आसानी से अपना पैसा जमा या निकाल सकते हैं। अलग-अलग जमा करने एवं निकालने की डेक्स बनाई गई है। जिससे ग्राहकों को आसानी से पैसा जमा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 114 वर्ष पूर्व हमारे संस्थापक अंबेबल सुब्बाराव पई मंगलूर कर्नाटक में एक संस्थान की न्यू रखी गई जो कि आज भारत के प्रमुख वाणिज्यिक बैंकों में से एक है और 1910 में केनरा बैंक के रूप में पल्लवित हुआ। उन्होंने कहा कि सुब्बाराव पई एक महान मानव प्रेमी होने के साथ-साथ समाजसेवी भी थे। जिनके विचारों में एक अच्छा बैंक ने केवल समाज का वित्तीय हृदय होता है। उन्होंने कहा कि केनरा बैंक की 10403 शाखाएं और 13406 एटीएम जो 8.48.00.000 लोगों से ज्यादा बढ़ते आधार की सभी जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। विदेश में बैंक की 8 शाखाएं हैं। डिविजनल मैनेजर अनुर

वेंक्टेश्वरा का“ वी0डू0 टैक लि0 के साथ शैक्षणिक करार  



  • -क्लाउड बेस आनॅलाईन ऐजूकेशन, विडियो लैक्चर, टैस्ट सीरीज के साथ-साथ आॅनलाईन परीक्षा फीडबैक सिस्टम एवं अन्य कई विश्वस्तरीय “ऐजूकेशन फीचर“ के साथ “जूम एवं गूगलमीट“ जैसे आनॅलाईन ऐजूकेशन सिस्टम से ज्यादा सुरक्षित एवं प्रभावी ऐजूकेशन सिस्टम-डा0 रिशी दास, संस्थापक “कैरियर नेट“ एवं पूर्व आईआईटीएन मुम्बई आई0आई0टी

  • विश्वस्तरीय आॅनलाईन ऐजूकेशन/परीक्षा, फीडबैक सिस्टम देने वाला उत्तर भारत का प्रथम निजी विश्वविद्यालय बना वेंक्टेश्वरा- डा0 सुधीर गिरि-कुलाधिपति वैंक्टेश्वरा विश्वविद्यालय


यूरेशिया संवाददाता


मेरठ- विश्वस्तरीय “आॅनलाईन शिक्षा प्रणाली“ के लिए 20 से अधिक देशों में 200 से अधिक विदेशी विश्वविद्यालयों/संस्थानों को आई0टी0 बेस्ड “बैस्ट ऐजूकेशन सिस्टम“ देने वाली कम्पनी “वीडू टैक0 लि0“ बैंगलूरू के साथ वैंक्टेश्वरा विश्वविद्यालय का शैक्षणिक करार हुआ। इस करार के साथ ही वैंक्टेश्वरा विश्वविद्यालय आई0टी0बेस्ड आॅनलाईन ऐजूकेशन के साथ-साथ आॅनलाईन परीक्षा, फीडबैक सिस्टम, टैस्ट सीरीज एवं अन्य प्रभावी फीचर के साथ यह सिस्टम लागू करने वाला उत्तर भारत का पहला निजी विश्वविद्यालय बन गया है। यह जानकारी आज करार के बाद कंम्पनी के बोर्ड आॅफ डायरेक्टर रिशी दास एवं प्रतिकुलाधिपति डा0 राजीव त्यागी ने दी। क्लाउड बेस्ड आॅनलाईन ऐजूकेशन सिस्टम के बारे में जानकारी देते हुए कम्पनी के सीईओ एवं दिल्ली आईआईटी के पूर्व एलूमिनी डा0 हरीष गोस्वामी ने बताया कि हमारी कम्पनी अमेरीका, इंग्लैण्ड, जापान, जर्मनी समेत 20 से अधिक देशों के 200 से अधिक उच्च शिक्षण संस्थानों में अपनी सेवाएं दे रही है। इसमें आॅनलाईन ऐजूकेशन के साथ-साथ आॅनलाईन परीक्षा-फीडबैक सिस्टम, वीडियो लैक्चर, टैस्ट सीरीज जैसे शानदार शैक्षणिक फीचर्स का समावेश है। यह सिस्टम जूम एवं गूगल मीट से भी ज्यादा प्रभावी, सुरक्षित एवं विश्व स्तरीय है। इस अवसर पर कुलपति प्रो0 पी.के. भारती, परिसर निदेशक डा0 राजेश पाठक, कुल सचिव डा0 एसपी पांण्डये, उपनिदेशक दूरस्थ शिक्षा डाॅ0 अल्का सिंह, अतुल कुमार, अमरीश बैनीवाल व मीडिया प्रभारी विश्वास राणा उपस्थित रहें।


Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां