संपूर्ण लॉक डाउन में मुस्लिम समाज ने इंटरनेट का लिया सहारा



  • ईद उल फितर के त्यौहार पर नेट के माध्यम से दी गई मुबारकबाद


यूरेशिया संवाददाता


मेरठ-सोमवार को संपूर्ण लॉक डाउन के चलते मुस्लिम समाज के लोगों ने अपने-अपने घरों में रहकर ईद-उल-फितर का त्यौहार मनाया। संपूर्ण लॉकडाउन पालन कर रहे मुस्लिम समाज के लोगो ने हाईटेक हो चुकी जिंदगी को अपनाते हुए नेट का सहारा लिया।  घरों में कैद लोगों ने फोन के माध्यम से वीडियो एवं वॉइस कॉल करते हुए अपने करीबियों को ईद उल फितर की मुबारकबाद दी। समाजसेवी शाहजेब रिजवी ने बताया कि सोमवार को शिकारी द्वारा संपूर्ण लॉकडाउन का आदेश किया जा चुका था। संपूर्ण लॉकडाउन का पालन करते हुए ईद उल फितर के त्यौहार पर इंटरनेट के माध्यम से वीडियो एवं वॉयस कॉल कर अपने करीबियों व मिलने वालो को त्यौहार की मुबारकबाद दी गई। एक दूसरे से अमन व शांति के लिए दुआ करने की अपील भी की गई। सईम रिजवी गगसौना ने बताया कि इंटरनेट से आज के समय में बहुत सारे कार्य आसान हो गए है। सोमवार को ईद उल फितर के त्यौहार पर इस तकनीक का प्रयोग किया गया। करीबियों को वीडियो व वॉइस कॉल के माध्यम से ईद की मुबारकबाद दी गई। डॉ शाहिद मसूदी ने बताया कि देश में कोविड-19 महामारी के चलते लॉकडाउन के निर्देश जारी हुए है। इस महामारी से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से घरों में रहने की सलाह दी गई है। सोमवार को ईद उल फितर का त्यौहार होने के चलते इंटरनेट का खूब प्रयोग किया गया। पूरे दिन इंटरनेट के माध्यम से वीडियो एवं वॉइस कॉल करके ईद उल फितर की लोगों को मुबारकबाद दी गई। घरो में रहकर ही त्यौहार मनाया गया। संपूर्ण लॉक डाउन का पालन किया गया।


 


Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट