केनरा बैंक(पूर्व सिंडिकेट) की ब्रांच का हुआ शुभारंभ

Image
फोटो परिचय:-शुभारंभ करते हुए रीजनल मैनेजर देवराज सिंह  डॉ असलम यूरेशिया बहसूमा। नगर के हसापुर रोड पर केनरा बैंक सिंडिकेट की ब्रांच स्थानांतरण करने के बाद शुभारंभ किया गया। शुभारंभ करने के बाद रीजनल मैनेजर देवराज सिंह ने कहा कि केनरा बैंक की नई जगह ब्रांच खोलने से ग्राहकों को परेशानी का सामना करना नहीं पड़ेगा। आसानी से अपना पैसा जमा या निकाल सकते हैं। अलग-अलग जमा करने एवं निकालने की डेक्स बनाई गई है। जिससे ग्राहकों को आसानी से पैसा जमा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 114 वर्ष पूर्व हमारे संस्थापक अंबेबल सुब्बाराव पई मंगलूर कर्नाटक में एक संस्थान की न्यू रखी गई जो कि आज भारत के प्रमुख वाणिज्यिक बैंकों में से एक है और 1910 में केनरा बैंक के रूप में पल्लवित हुआ। उन्होंने कहा कि सुब्बाराव पई एक महान मानव प्रेमी होने के साथ-साथ समाजसेवी भी थे। जिनके विचारों में एक अच्छा बैंक ने केवल समाज का वित्तीय हृदय होता है। उन्होंने कहा कि केनरा बैंक की 10403 शाखाएं और 13406 एटीएम जो 8.48.00.000 लोगों से ज्यादा बढ़ते आधार की सभी जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। विदेश में बैंक की 8 शाखाएं हैं। डिविजनल मैनेजर अनुर

राशन कार्ड बनने का समय.... 3 दिन....? 30 दिन या  3 महिने

यूरेशिया संवाददाता


मेरठ .आज कोरोना वायरस कि वजह से गरीब भूखमरी की कगार पर है.सरकार गरीबो के लिये सस्ते गल्ले की दुकानो पर दो रुपये किलो गेन्हु ओर तीन रुपये किलो चावल बिकवाकर उनका पेट भरने की कोशिश कर रही है लेकिन कुछ गरीबो के तो राशन कार्ड ही नहीं बने हुये है. करीब दस दिन पहले जिलापुर्ती अधिकारी नीरज सिंह ने मीडिया के माध्यम से जान्कारी दी थी कि जिनका राशन कार्ड नहीं बना हुआ है वो ऑन लाइन करा दे उनको कागज भेज्मे की भी जरुरत नही है वो अपना फ़ार्म e mail आई डी के जरिये हमे भेज दे अगर वो पात्र है तो तीन दिन मे उसका राशन कार्ड जारी कर दिया जाये. अब अगर बात कि जाये किसी गरीब की तो वो इस माहोल मे ऑन लाइन कराये कैसे ओर ऑन लाइन के बाद e mail कैसे करे. हमारे संवाददाता राकेश शर्मा ने जब इस मामले की जानकारी ली तो कुछ गरीबो का दर्द छलक गया.. उन्की आँख नम थी ओर ओर उनका कहना था हमने अपना राशन कार्ड ऑन लाइन करीब बीस दिन पहले करा दिया था जिलापुर्ती कार्यलय के बाहर एक पेटी रखी है जिसमें फ़ार्म रखने को कहा जा रहा है. एक दिन मे जाने कितने फ़ार्म आये लेकिन बने कितने इसका जवाब किसी के पास नही है..


.हमारे संवाददाता राकेश शर्मा की रिपोर्ट  


ये कहना है जनता का....... शास्त्री नगर सेक्टर आठ निवासी महिला का कहना है .मैं एक हाउस वाइफ़ हूँ पति ट्रेवल्स पर गाड़ी चलाते थे फ़िलहाल काम बन्द है मेरा राशन कार्ड केन्सिल कर दिया गया अब दस दिन से ज्यादा फ़ार्म ऑन लाइन किये हुये हो गये  एरिया इंस्पेक्टर अजय को भी जान्कारी दी थी लेकिन कार्ड नही बना .......आखिर राशन कार्ड निरस्त कैसे हो गया ओर अब इतना समय क्यो लग रहा है इस मामले की जानकारी के लिये जब जिलापुर्ती अधिकारी नीरज सिंह को फ़ोन किया तो उनका फ़ोन रिसिव नही हुआ


Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां