केनरा बैंक(पूर्व सिंडिकेट) की ब्रांच का हुआ शुभारंभ

Image
फोटो परिचय:-शुभारंभ करते हुए रीजनल मैनेजर देवराज सिंह  डॉ असलम यूरेशिया बहसूमा। नगर के हसापुर रोड पर केनरा बैंक सिंडिकेट की ब्रांच स्थानांतरण करने के बाद शुभारंभ किया गया। शुभारंभ करने के बाद रीजनल मैनेजर देवराज सिंह ने कहा कि केनरा बैंक की नई जगह ब्रांच खोलने से ग्राहकों को परेशानी का सामना करना नहीं पड़ेगा। आसानी से अपना पैसा जमा या निकाल सकते हैं। अलग-अलग जमा करने एवं निकालने की डेक्स बनाई गई है। जिससे ग्राहकों को आसानी से पैसा जमा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 114 वर्ष पूर्व हमारे संस्थापक अंबेबल सुब्बाराव पई मंगलूर कर्नाटक में एक संस्थान की न्यू रखी गई जो कि आज भारत के प्रमुख वाणिज्यिक बैंकों में से एक है और 1910 में केनरा बैंक के रूप में पल्लवित हुआ। उन्होंने कहा कि सुब्बाराव पई एक महान मानव प्रेमी होने के साथ-साथ समाजसेवी भी थे। जिनके विचारों में एक अच्छा बैंक ने केवल समाज का वित्तीय हृदय होता है। उन्होंने कहा कि केनरा बैंक की 10403 शाखाएं और 13406 एटीएम जो 8.48.00.000 लोगों से ज्यादा बढ़ते आधार की सभी जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। विदेश में बैंक की 8 शाखाएं हैं। डिविजनल मैनेजर अनुर

पीएसी के तीन और जवान कोरोना पॉजिटिव निकले, कैंपस में अब कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 18 पहुंची

यूरेशिया संवाददाता


मेरठ। छठी वाहिनी पीएसी  के तीन जवान शुक्रवार को कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। पीएसी कैंपस में अब कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 18 पहुंच गई है। कैंपस में तैनात जवानों के बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। कमांडेंट मनोज कुमार सोनकर ने बताया कि शुक्रवार को पीएसी के आठ सैंपल की रिपोर्ट आई। इसमें तीन कोरोना पॉजिटिव और पांच निगेटिव आए हैं। तीनों संक्रमित एच-कंपनी के हैं। इसमें एक हेड कांस्टेबल, एक कांस्टेबल और एक फॉलोअर है। तीनों पहले से ब्रह्मपुरी क्षेत्र के एस्ट्रॉन स्कूल में क्वारंटाइन हैं। हेड कांस्टेबल को मेरठ मेडिकल भेजा जा रहा है और बाकी दो को मुलायम सिंह यादव मेडिकल कॉलेज खरखौदा में आइसोलेट किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार, तीनों की ड्यूटी मेरठ के हॉटस्पॉट इलाके में लगी हुई थी। पीएसी में संक्रमण के केस अब तक 18 हो चुके हैं। इसकी शुरुआत एक हेड कांस्टेबल से हुई, जिसकी ड्यूटी दिल्ली रोड पर नवीन मंडी के बाहर लगी हुई थी। माना जा रहा है कि वह किसी सब्जी विक्रेता के संपर्क में आकर संक्रमण का शिकार हुआ। इसके बाद पीएसी बटालियन के जवानों में संक्रमण फैलता गया। अब तक आठ रिक्रूट आरक्षी, दो फॉलोअर, तीन फॉलोअर के परिजन और पांच हेड कांस्टेबल व कांस्टेबलों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। राहत वाली बात यह है कि संक्रमितों के संपर्क में आने वाले जवानों की बड़ी संख्या में रिपोर्ट निगेटिव भी आई हैं।  कमांडेंट मनोज सोनकर ने बताया कि कैंपस में जवानों के बेहतर स्वास्थ्य के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। जो जवान डयूटी कर बटालियन में आ रहे हैं, उन्हें एकदम अलग क्वारंटाइन किया जा रहा है। कैंपस में तैनात जवानों के बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगा दिया है। बटालियन के सभी जवान हर रोज योगाभ्यास कर रहे हैं। उन्हें ड्राईफ्रूटस दिए जा रहे हैं। दो वक्त ग्रीन टी और औषधीय काढ़ा दिया जा रहा है। 


Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां