केनरा बैंक(पूर्व सिंडिकेट) की ब्रांच का हुआ शुभारंभ

Image
फोटो परिचय:-शुभारंभ करते हुए रीजनल मैनेजर देवराज सिंह  डॉ असलम यूरेशिया बहसूमा। नगर के हसापुर रोड पर केनरा बैंक सिंडिकेट की ब्रांच स्थानांतरण करने के बाद शुभारंभ किया गया। शुभारंभ करने के बाद रीजनल मैनेजर देवराज सिंह ने कहा कि केनरा बैंक की नई जगह ब्रांच खोलने से ग्राहकों को परेशानी का सामना करना नहीं पड़ेगा। आसानी से अपना पैसा जमा या निकाल सकते हैं। अलग-अलग जमा करने एवं निकालने की डेक्स बनाई गई है। जिससे ग्राहकों को आसानी से पैसा जमा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 114 वर्ष पूर्व हमारे संस्थापक अंबेबल सुब्बाराव पई मंगलूर कर्नाटक में एक संस्थान की न्यू रखी गई जो कि आज भारत के प्रमुख वाणिज्यिक बैंकों में से एक है और 1910 में केनरा बैंक के रूप में पल्लवित हुआ। उन्होंने कहा कि सुब्बाराव पई एक महान मानव प्रेमी होने के साथ-साथ समाजसेवी भी थे। जिनके विचारों में एक अच्छा बैंक ने केवल समाज का वित्तीय हृदय होता है। उन्होंने कहा कि केनरा बैंक की 10403 शाखाएं और 13406 एटीएम जो 8.48.00.000 लोगों से ज्यादा बढ़ते आधार की सभी जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। विदेश में बैंक की 8 शाखाएं हैं। डिविजनल मैनेजर अनुर

मुजफ्फरनगर में मीडिया के नाम पर 200 कार्ड बेचे गए, पांच गिरफ्तार, तीन वांछित


यूरेशिया संवाददाता
मुज़फ्फरनगर। फर्जी पत्रकारों का गोरख धन्धा जोरो पर है दिल्ली क्राइम प्रेस के नाम से छपे अखबार व् फर्जी कार्ड के द्वारा बनाये जा रहे थे सदस्य ली जा रही थी २१०० रुपये की धनराशि पुलिस का जनपद में फर्जी पत्रकारों के खिलाफ अभियान जारी है। थाना सिविल लाईन पुलिस ने आज फर्जी आईकार्ड बनाने के आरोप में चार लोगों को गिरफ्तार किया है।
थाना सिविल लाईन जनपद पुलिस द्वारा सलमान पुत्र मौ० मुन्ना नि० किदवईनगर थाना कोतवाली नगर को दिल्ली के एक मासिक अखबार के फर्जी प्रेस कार्ड/मैम्बर कार्ड के साथ गिरफ्तार किया गया था जो सिर्फ कक्षा ३ पास था और कबाडी का काम करना बता रहा था। पुलिस के अनुसार सलमान लोगो पर कार्ड का रौब गालिब कर अपने आपको प्रेस वाला बताकर लाकडाउन का उल्लघंन कर रहा था। पूछताछ पंर उसने बताया कि यह कार्ड मुझे सतेन्द्र सैनी पुत्र धीर सिह नि० गाधी नगर थाना नई मण्डी व कल्लन पुत्र तुगल नि० खेडा पट्टी सुजड़ थाना कोतवाली ने २१०० रूपये मे तैयार करा कर दिया था। पुलिस के अनुसार उसने यह भी बताया कि जिले में उसने लगभग २०० कार्ड रूपये लेकर बनाकर बांट रखें हैं। इस पर उक्त सतेन्द्र सैनी इसकी पैरवी में अपने ०३ साथियों के साथ आया। उससे पूछताछ की तो उसने सलमान उपरोक्त के कथन का समर्थन किया और बताया कि मेरा सम्पादक दिल्ली में है, वही उसका आफिस है। तीनों से प्रेस के कार्ड बरामद हुये जो फर्जी हैं। पुलिस ने साक्ष्य के आधार पर उन चारों को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस द्वारा इस संबंध में रूपये लेकर कम शिक्षित या अशिक्षित लोगो को कार्ड बाँटने को लेकर इनके सम्पादक को भी वांछित किया है। पुलिस द्वारा इस प्रकरण अब तक कुल पांच लोगों सलमान पुत्र मौ० मुन्ना नि० किदवाईनगर थाना को०नगर, सतेन्द्र सैनी पुत्र धीर सिह निवासी गाँधीनगर थाना नई मण्डी, चन्द्रभान पुत्र राधेश्याम नि० कूकडा थाना नई मण्डी, सुरेन्द्र पुत्र इकबाल सिह नि० गांधी नगर थाना नई मण्डी तथा प्रवेश कुमार पुत्र ओमवीर सिह नि० अमित बिहार थाना नई मण्डी को गिरफ्तार किया गया है, जबकि अखबार के सम्पादक को वांछित किया गया है।



Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां