ईद की नमाज घरों में अदा करने की अपील


  • शहर काजी मौलाना सलमान कासमी ने प्रेस नोट जारी कर दी जानकारी



यूरेशिया संवाददाता


फलावदा-मौलाना सलमान कासमी शहर काजी फलावदा ने मुस्लिम समाज से अपील करते हुए बताया कि जुमा अलविदा व ईद की नमाज मस्जिदो व अपने अपने घरों में ही अदा करे। कोरोना वायरस बीमारी के कारण लोक डाउन का पालन करते हुए जिस तरह मुस्लिम समाज ने पूर्व में नमाज ए जुमा व तरावीह मस्जिदों व घरों में चार या पांच लोगों के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए पड़ी है। जिन लोगो की ईद की नमाज की कोई सूरत न बन सके। उन पर नमाज ईद माफ़ है। उन्हें गमगीन होने की कोई जरूरत नही।अलबत्ता यह हजरात अपने घरों पर ही इनफरादी तौर पर नमाज-ए चाश्त 2 या 4 रकात पढ़ ले तो बेहतर है। चाश्त की नमाज का वक्त दस बजे के करीब है। नमाज इससे पहले ही सदकातुल फितर अदा करे। ताकि गरीब लोग भी अपनी ईद मना सके। न मुसाफा करे, न गले मिले, न किसी के घर जाए, फोन पर ही ईद की मुबारकबाद दे। सफाई का ख़ास ख्याल रखे, मास्क लगाकर रहे। मौलाना सलमान कासमी ने प्रशासन से दरखास्त की है कि ईद पर सफाई व पानी का खास इंतजाम करे। पुलिस प्रशासन डॉक्टर व सफाई कर्मचारियों का पूरा सम्मान व सहयोग करें।


Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट