पत्रकार को धमकी देने वाले बिल्डर के खिलाफ केस दर्ज़,बिल्डर व गुर्गे फरार

युरेशिया नई दिल्ली। विश्व पत्रकार महासंघ दिल्ली प्रदेश ने मध्य जिला पुलिस उपायुक्त संजय भाटिया व एडिशनल डी सी पी रोहित कुमार मीणा को ज्ञापन व मांग पत्र सौंप कर पत्रकार मणि आर्य को धमकी देने वाले बिल्डर के खिलाफ मुकदमा दर्ज़ करके कार्रवाई की मांग की थी। पत्रकार मणि आर्य ने दिल्ली के पहाड़गंज में बाराही माता मंदिर में चल रहे अवैध निर्माण और निगम में फैले भ्रष्टाचार और भू - माफिया बिल्डर द्वारा सरकारी भूमि पर कब्जे को लेकर खबर को प्रकाशित की थी। जिसके बाद अब दिल्ली पुलिस ने सच दिखाकर प्रशासन को जगाने वाले स्थानीय पत्रकार मणि आर्य को धमकी देने वाले बिल्डर व उसके गुर्गों के खिलाफ नबी करीम थाना पुलिस भारतीय दंड सहिंता की धारा 506 के अंतर्गत रिपोर्ट संख्या 0013/2020 के तहत ने जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज़ कर लिया है। केस दर्ज़ होने की भनक लगते ही गिरफ्तारी के डर से आरोपी बिल्डर और उसके कई गुर्गे भूमिगत हो गए हैं। गौरतलब है की स्थनीय जनप्रतिनिधियों से सांठगांठ करके बिल्डर बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण करने में माहिर माना जाता है इसलिए निगम पार्षद से लेकर महापौर तक मंदिर पर अवैध निर्माण को

दूसरे दिन भी शराब के ठेकों पर रही लंबी लाइन , लॉक डाउन के आदेशों की धज्जियां उड़ी


*राजेन्द्र सिंह* रिपोटर  
*अतुल त्यागी*  प्रभारी 


हापुड़, जनपद हापुड़ में आज शराब की दुकानों पर भीड़ देखने को मिली जहां लोग राशन के लिए परेशान है वहीं कुछ लोग सिर्फ और सिर्फ शराब के लिए परेशान है क्या शराब के ऊपर लॉक डाउन  का आदेश कोई मायने नहीं रखता कि जब चाहे तब यह लोग जाकर शराब लाएं और पिए। शासन प्रशासन को इस तरफ गंभीरता से सोचना होगा क्योंकि यदि यही हाल रहा तो वह दिन दूर नहीं  जब कोरोना के मरीजों की संख्या दिन दुगुनी और रात चौगुनी पहुंचेगी क्योंकि यदि एक आदमी शराब लाएगा तो यह निश्चित है उसके साथी मिलकर जरूर पिएंगे यदि उन चारों में से किसी एक को भी कोरोना हुआ तो वह जाने कितने लोगों ने कोरोना पॉजिटिव करेगा। मनुष्य के आवश्यकता की सभी चीजें खोलने का एक निश्चित टाइम है 7:00 से 10:00 लेकिन शराब का ठेका सुबह 10:00 से शाम 7:00 बजे तक खुलेगा यानी ठेके पर दारू लेने के लिए इस लॉक डाउन  टाइम में कोई भी कभी भी जा सकता है तो वह पुलिस वालों से क्या कहेगा कि शराब लेने के लिए जा रहा हूं और क्या शराबियों को छूट है कि वह लॉक डाउन में जाकर शराब ला सकते हैं शासन खुद ही लॉक डाउन के आदेश की धज्जियां उड़ा रहा है।


Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां