भाजपा महानगर के पीएसओ की  कोरोना से दिल्ली में मौत 



  •   परिवार पर टूटा कोरोना का कहर पहले पिता की  कोरोना से हुइ थी मौत , मौत का आंकडा 10पहुुंचा


यूरेशिया संवाददाता

 मेरठ । मेरठ में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है । भाजपा के महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंहल के साबुन गोदाम निवासी पीएसओ की दिल्ली में कोरोना से मौत हो गयी हे। इससे पहले पिता राकेश की मौत की मौत हो चुकी है। पीएसओ की माता व भाई भी अस्पताल मे जिंदगी और मौत से जुझ रहे है। मेरठ में कोरेाना से संक्रमित मरने वालों की संख्या १० जा पहुंची है। भाजपा नेता की मौत की खबर सुनकर भाजपा व प्रशासन में खलबली बच गयी है। वही दिल्ली के अस्पताल में भाजपा नेता के पीएसओ का शव अपनों का इंतजार कर रहा है। शव में मेरठ शाम को आने की संभावना है। 


बता दें भाजपा महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंहल के पीएसओ विभांशु वरिष्ठ की २२ अप्रैल का रिपोर्ट आने पर मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया था। जहां पर उनका उपचार किया जा रहा था। गुरूवार को उनकी तबियत खराब होने के कारण उन्हे दिल्ली रैफर किया गया था। जहां पर आज उनकी मौत हो गयी। इस बात की पुष्टिï मेडिकल कालेज के प्रचार्या डा आर सी गुप्ता ने की है। भाजपा नेता के पीएसओ का उपचार मेडिकल कालेज में चल रहा था रात के समय उनकी तबियतअचानक बिगड गयी। जिनहे उपचार केलिये दिल्ली ले जाया गया। जहां पर उनकी डेट हो गयी है। 

परिवार का कोई भी सदस्य अस्पताल नही पहुंचा 


पीएसओ की मौत के बाद दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उनका शव लेने के लिये परिवार का कोई भी सदस्य नहीं पहुंचा। दरसअसल उनके भाई व मा अस्पताल में जिदंगी और मौत से जुझ रहे है। शाम तक उनके शव के आनें की संभावना है। 

 

बता दें विभांशु के कारण भाजपा के कई नेताओं को क्वारंटाइन करना पडा था। जिसमें मुजफ्फर नगर के सांसद संजीव बालियान, सांसद राजेन्द्र अग्रवाल,पश्चिमी उत्तर के अध्यक्ष अश्विनी त्यागी, कैंट विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल, विधायक सोमैन्द्र तोमर महानगर अध्यक्ष मकुेश सिंहल को होम क्वाराइंटन करना पडा था। वही विंशंांभु के निधन से भाजपा नेता सदमे में है। 


  • शास्त्री नगर का एच ब्लॉक हुआ सील 


शास्त्री नगर के एच ब्लॉक स्थित खरबंदा किराना स्टोर के संचालक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद गुरूवार उस इलाके को पुलिस ने सीलकर दिया है। पुलिस ने पीवीएस से सैक्टर ८ की ओर जाने वाले रास्ते को सील कर बेरिकेटिंग लगा दी है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने यहां पहुंच कर आसपास के लोगों के सैंपल लिये । लोगों को घर से बाहर निकलने के लिये प्रतिबद्घ लगा दिया है। 



  • समझाने का दौर समाप्त 


कोरोना मरीजों की बढती संख्या को देखते हुए शहर की पुलिस का रवैया पूरी तरह बदलने लगा है। जिलेों को कोरोना से बचाने के लिये पुलिस की ओर से थानेदोरो को सडकों पर बिना वजह घुमने वालों के खिलाफ कार्रवाही करने के निर्देश दिये गये है। जिस पर पुलिस पूरी तरह एक्शन में आ गयी है। शहर में अघोषित कफ्र्यू जैसी स्थिति बन गयी है। आवश्यकत सेवाओं के अतिरिक्त जिला प्रशासन ने अन्य सभी पास को रदद कर दिया है।