अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस: हमदर्द लैबोरेटरीज ने महिलाओं और डॉक्टरों को किया सलाम

महिलाओं ने निशुल्क परामर्श लेकर हमदर्द वेलनेस सेंटर्स का लाभ उठाया  युरेशिया संवाददाता   गाजियाबाद। महिलाओं और डॉक्टरों के निरंतर सहयोग को सम्मान देने के लिये हमदर्द लैबोरेटरीज वेलनेस कैम्पेन लॉन्च कर अंतराष्ट्रीय महिला दिवस मना रहा है। यह पहल कोविड-19 महामारी के विरुद्ध सुरक्षा की अग्रिम पंक्ति के तौर पर घर की महिलाओं और डॉक्टरों के निरंतर सहयोग और प्रयासों की प्रशंसा करती है। इस पहल पर अपनी बात रखते हुए हमदर्द लैबोरेटरीज (मेडिसिन डिविजन) के चेयरमैन अब्दुील मजीद ने कहा कि हमदर्द का इतिहास कई छोटी-छोटी कहानियों से भरा है। इस कैम्पेन के हिस्से के तौर पर हमदर्द की लोकप्रिय हेल्थस वैन्स पहल गाजियाबाद व मेरठ की महिलाओं को मुफ्त में स्वाथय संबंमधी परामर्श दे रही है। इस पहल के द्वारा हमदर्द की योजना हजारों महिलाओं तक पहुंचने की है। हमदर्द पीसीओ/पीसीओडी और निजी समस्याओं जैसे स्वास्थ्य संबंधी मामलों के इलाज के लिये सही जानकारी की जरूरत को ध्यान में रखकर देशभर में अपने प्रसिद्ध हमदर्द वेलनेस सेंटर्स पर महिलाओं को मुफ्त परामर्श भी देगा। महिला डॉक्टर्स ने सोमवार को इन सेंटर्स पर रेडियो में वीमन ए

प्रदेश में तेजी के साथ बढ़ाई जानी चाहिए कोरोना वायरस  की जांच

अतुल त्यागी मंडल प्रभारी
मुकेश सैनी जिला प्रभारी


हापुड़, कोरोना वायरस महामारी दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है ऐसे में जांच ही सिर्फ उसको  रोकने का एक माध्यम है आज इस संदर्भ में हमारे संवाददाता मुकेश सैनी द्वारा जब हापुड  के पूर्व विधायक गजराज सिंह द्वारा जब यह जानकारी की गई कि कोरोना वायरस महामारी से बचने के लिए क्या किया जाए तो उन्होंने कहा कि प्रत्येक दशा में शासन प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस महामारी की जांच अधिक से अधिक कराए जाएं जिससे कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों की पहचान की जा सके और यह जांच का दायरा सरकार को तेजी से बढ़ाना चाहिए साथ ही जिस प्रकार कोटा राजस्थान से छात्रों को लाया जा रहा है उसी प्रकार उत्तर प्रदेश सरकार को मजदूरों को उनके निवास तक पहुंचाने की व्यवस्था करनी चाहिए 


समाजवादी पार्टी के  नेता  पुरुषोत्तम वर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस की जांच कुछ बड़ी है लेकिन यह पर्याप्त नहीं है कोरोना वायरस की जांच तेजी के साथ बढ़ानी होगी क्योंकि अभी जांच एवं संख्या में हो रही हैं जिसके कारण कोरोना के मरीजों की सही संख्या सही जानकारी अभी नहीं मिल पाती


बहुजन समाज पार्टी के जिला अध्यक्ष डॉक्टर ऐ के कर्दम ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार सील इलाकों में तो जांच करा रही है लेकिन उसके अलावा कहीं अन्य स्थान पर जांच अभी नहीं हो रही है जबकि जांच का दायरा उत्तर प्रदेश सरकार को बढ़ाना होगा तभी जाकर कोरोना के मरीजों की पहचान पुष्टि की जा सकती है कोरोना वायरस की जांच के लिए निम्न वर्गीय परिवारों पर विशेष ध्यान देना होगा क्योंकि यदि एक बार यह वायरस निम्न वर्ग के लोगों में फैल गया तो संभालना अत्यंत कठिन हो जाएगा 


आनंदी मेल समाचार पत्र के जिला प्रभारी  रिँकू सैनी ने कहा कि कोरोना वायरस की जांच के लिए लोगों के घर तक अधिक टीमें पहुंचे तथा पत्रकारों की भी कोरोना की जांच की जानी चाहिए


मुख्य चिकित्सा अधिकारी रेखा शर्मा ने बताया कि हमारे द्वारा प्राथमिकता के आधार पर जांच की जा रही है सिर्फ प्रथम जो कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं उसके जो आसपास व्यक्ति रह रहे हैं पहले उनकी जांच की जाती है उसके बाद उस एरिया में संदिग्ध व्यक्तियों की जांच की जाती है या किसी व्यक्ति में कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई देते हैं तो उसकी जांच की जा रही है यह सभी जांचें निशुल्क कराई जा रही हैं अभी तक जनपद हापुड़ में अब तक 870 जांचें जिसमें 192  मरीजों की रिपोर्ट अभी आनी बाकी है जांच सभी हॉट हॉट स्पॉट इलाकों में रैंडम तरीके से कराई जा रही हैं ।


Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट