4 दिन से लापता युवक की गुमशुदगी की दी तहरीर

Image
लापता बच्चे का फोटो डॉ असलम/ युरेशिया  बहसूमा। नगर के मोहल्ला चैनपुरा का रहने वाला एक 17 वर्षीय युवक संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया। परिजन 4 दिनों से उसकी तलाश में जुटे हुए थे। लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। गायब हुए बच्चे के पिता ने थाने पर गुमशुदगी दर्ज कराने के लिए तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। थाने पर तहरीर देते हुए लापता हुए एक बच्चे के पिता शकील पुत्र सिराजुद्दीन ने बताया कि उसका पुत्र नईम उम्र 17 वर्ष बीते 28 फरवरी को घर से बिना बताए चला गया। जब 1 मार्च की शाम तक घर नहीं लौटा तो उसकी रिश्तेदारी एवं संबंधियों में तलाश की। लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। पीड़ित ने थाने पर गुमशुदगी की तहरीर देते हुए बरामदगी की मांग की है। थाना प्रभारी निरीक्षक मनोज चौधरी का कहना है कि तहरीर के आधार पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

महाराष्ट्र के पालघर घटना पर विश्व हिंदू परिषद ने जताया रोष



  • हत्यारो को फांसी की सजा दिलाने की मांग


यूरेशिया संवाददाता


मवाना-महाराष्ट्र के पालघर की हिंसा में विधर्मियों द्वारा निर्दोष संतों एवं उनके चालक की पुलिस के सामने निर्मम हत्या किए जाने व बुलंदशहर में  दो  संतों की निर्मम हत्या किए जाने पर  विश्व हिंदू परिषद द्वारा पूरे देश भर में  आहवान किया गया था कि मंगलवार को समाज के सभी लोग दिवंगत साधुओं को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित  करते हुए  अपने अपने घरों में दीप जलाएंगे। मवाना क्षेत्र में भी विश्व हिंदू परिषद व संघ विचार परिवार तथा आमजन द्वारा अपने-अपने घरों में दीप जलाए गए व संतों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। जिला प्रचार प्रमुख योगेंद्र जाटव ने महाराष्ट्र सरकार व उत्तर प्रदेश सरकार से मांग करते हुए कहा कि दोषियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए। पालघर हिंसा पर उन्होंने कहा कि पालघर हिंसा की सीबीआई जांच कर फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई हो। सभी विधर्मी हत्यारों को शीघ्र ही फांसी दी जानी चाहिए। ऐसी जघन्य निर्मम हत्याओं की मूल जननी के रूप में धर्मान्तरण हेतु छल प्रपंच रचने वाली ईसाई मिशनरी, नक्सली, वामपंथी एवं मूकदर्शक पालघर पुलिस के गठजोड़ की उच्चस्तरीय जांच कराकर कठोर कार्यवाही की जानी चाहिए। हिन्दू संतों कल्प वृक्ष गिरि जी, सुशील गिरि जी, एवं उनके चालक की विधर्मियों द्वारा हत्या करते समय मौके पर तैनात पुलिसकर्मियों पर भी गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए।


Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला