4 दिन से लापता युवक की गुमशुदगी की दी तहरीर

Image
लापता बच्चे का फोटो डॉ असलम/ युरेशिया  बहसूमा। नगर के मोहल्ला चैनपुरा का रहने वाला एक 17 वर्षीय युवक संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया। परिजन 4 दिनों से उसकी तलाश में जुटे हुए थे। लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। गायब हुए बच्चे के पिता ने थाने पर गुमशुदगी दर्ज कराने के लिए तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। थाने पर तहरीर देते हुए लापता हुए एक बच्चे के पिता शकील पुत्र सिराजुद्दीन ने बताया कि उसका पुत्र नईम उम्र 17 वर्ष बीते 28 फरवरी को घर से बिना बताए चला गया। जब 1 मार्च की शाम तक घर नहीं लौटा तो उसकी रिश्तेदारी एवं संबंधियों में तलाश की। लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। पीड़ित ने थाने पर गुमशुदगी की तहरीर देते हुए बरामदगी की मांग की है। थाना प्रभारी निरीक्षक मनोज चौधरी का कहना है कि तहरीर के आधार पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

हार्डवेयर कारोबारी को पत्नि समेत उतारा मौत के घाट



  •   लॉक डाउन में आधी रात को दिया बदमाशों ने घटना को अंजाम


यूरेशिया संवाददाता


मेरठ। लॉक डाउन में भी मेरठ में अपराधों को ग्राफ समाप्त नहीं हो पा रहा है। बीती रात थाना जानी क्षेत्र के धोलडी गांव में बदमाशों ने दिल दहला देने वाली घटना को अजांम दिया। रात के  समय हार्डवेयर कारोबारी व उसकी पत्नि को  मौत के घाट उतार कर फरार हो गये। घटना का उस समय चला जब रात को ३ बजे गांव का एक युवक सामान लेने के आया । मौके पर पहुंचे पुलिस के आलाधिकारी मामले की छानबीन करने में जुटे है। जिस तरह बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया है। उसे देखकर कहा जा सकता है। बदमाशों ने रंजिशन दंपित को मौत  के घाट उतारा है। पुलिस ने दोनो के शव को पोस्टमार्टम के लिये मेडिकल भेज कर मामले  की छानबीन आरंभ कर दी है।
 धोलडी निवासी ७० वर्षीय सतेन्द्र गर्ग पुत्र जय किशन अपनी पत्नि ६२ वर्षीय सरिता के साथ गांव में ही रहता था।जबकि उसके पुत्र ३० वषीयसोनू व ३५ वर्षीय नवीन मोदीनगर में अपने परिवार के साथ रहते थे।  जिसमें सोनू स्वास्थ्य विभाग में नौकरी करता था जबकि नवीन बैंक में नौकरी करता है। जबकि एक बहन दिल्ली में रहती है। उसकी शादी हो चुकी है।सतेन्द्र की मकान में ही उसकी हार्डवेयर की दुकान थी। रात  के समय सतेन्द्र दुकान को बंद कर पत्नि समेत सो गया। आधी रात के बाद बदमाश ईंटों के चटटे के सहारे मकान में घुसे उन्होने घर मे घुसते ही सतेन्द्र पर ताबडतोड चाकू, सरिया व डंडे वार करने आरंभ कर दिया। सतेन्द्र की मौके पर ही मौत हो गयी। पति को बचाने के लिये आयी सरिता को भी बदमाशों ने अधमरा कर वहां से फरार हो गये। रात के समय गंाव का पवन नाम को युवक मकान के अंदर आया तो उसके पैरो तले जमीन खिसक गयी। सतेन्द्र का शव बैड पर पडा था सरिता खून से लथपथ जमीन पर पडी थी। उसने तत्काल ११२ पर फोन कर सूचना दी । सूचना मिलते ही डबल मर्डर की सूचना पर थाने में हडकंप मच गया। आनन फानन में एसपी देहात अविनाश पांडे सीओ सरधना पंकज मय फोर्स मौके पर पहुुंच। घायल सरिता को उपचार के लिये अस्पताल ले  जाया  गया। लेकिन पॉचली के पास पहुंचने पर उसने दम तोड दिया।  मौके पर फोरंसिंक टीम व डॉग स्कावायड को बुलाया गया। डॉग स्कावायड आसपास के क्षेत्र को तलाश किया। काफी दूर जाकर वह भी वापस आ गये। पुलिस ने मकान के तलाशी ली लेकिन कही भी लूट जैसे घटना नहीं लगी। पुलिस की प्रारभिक शुरूआत में ही यह रंजिशन हत्या का मामला प्रतीतहो रहा है। पुलिस ने गंाव केलोगों से बातचीत कर  सतेन्द्र गर्ग केबारे में जानकारी लेने का प्रयास किया।
  ब्याज पर लोगों को रूपये देता था
 पुलिस की छानबीन करने पर पता चला है। सतेन्द्र  ब्याज पर पैसे देता था। २० साल पहले उसने गांव के एक व्यक्ति को २० हजार रूपये ब्याज पर दिये थे। उसके बदले में उसने चार बीघा जमीन के  कागजात अपने पास रख लिये थे। उक्त मुकदमा कोर्ट में विचारधीन है।
 किसी से कोई रंजिश नहीं
  घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुुंचे दोनो पुत्रों नवीन व सोनू से पुलिस अधिकारियों ने बात  की।उन्होंने बताया उनके पति व उनकी गांव में किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी।
 बोले अधिकारी :-
 मामला रजिंशन प्रतीत हो रहा है। फिलहाल मामले की जांच पडताल की जा रही है। अभी जल्दबाजी में  कु छ भी कहना सही नहीं होगा। दोनो शवों को पोस्टमार्टम के लिये भेजा दिया गया है।
                                    अविनाश पांडे -एसपी देहात ,मेरठ 


Popular posts from this blog

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला