विम्स मेडिकल काॅलेज में "मिशन शक्ति अभियान एवं महिला सशक्तिकरण" पर दो दिवसीय आत्मरक्षा शिविर का आयोजन

Image
हिमा दास, बछेन्द्रीपाल, मैरीकाॅम, किरन बेदी जैसी विख्यात मातृशक्ति ने केवल मानसिक मजबूती एवं सघर्ष के दम पर पूरी दुनिया में भारत का डंका बजाया- डाॅ सुधीर गिरि, चेयरमैन, वेंक्टेश्वरा समूह अनीस खान यूरेशिया ब्यूरो मेरठ। राष्ट्रीय राजमार्ग बाईपास स्थित श्री वेंक्टेश्वरा विश्वविद्यालय द्वारा संचालित विम्स मेडिकल काॅलेज में मिशन शक्ति अभियान के तहत महिला सशक्तिकरण की दिशा में प्रभावी पहल करते हुए मेडिकल एवं नर्सिंग की छात्राओ के लिए दो दिवसीय आत्मरक्षा शिविर का शानदार आयोजन किया गया। इस अवसर पर अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के लिए विभिन्न क्षेत्रो में राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी शानदार उपस्थिति दर्ज कराने वाली 82 महिलाओ एवं बालिकाओ को लक्ष्मीबाई नारी/बालिका शक्ति सम्मान 2021 से नवाजा गया। विश्वविद्यालय के डाॅ सीवी रमन सभागार में आयोजित दो दिवसीय आत्मरक्षा शिविर एवं लक्ष्मीबाई नारी/ बालिका शक्ति सम्मान-2021 समारोह का शुभारम्भ वेंक्टेश्वरा समूह के चेयरमैन डाॅ सुधीर गिरि, प्रतिकुलाधिपति डाॅ राजीव त्यागी, डीन मेडिकल बिगे्रडियर डाॅ सतीश अग्रवाल, नर्सिंग डीन डाॅ एना ब्राउन, विख्यात स्

बागपत में लॉक डाउन की आड़ में हो रहा तालाब पर कब्जा


यूरेशिया संवाददाता
बड़ौत। जहाँ देश भर में कोरोना महामारी से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश समेत पूरे देश मे लॉक डाउन लगा हुआ है, वही बागपत के एक गांव में कुछ भू माफिया मिलकर तालाब को कब्जाने में लगे हुए है। जिसकी वजह से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। 
दरअसल, जिला प्रशासन की हीलाहवाली के चलते बागपत, बड़ौत खेकड़ा तहसीलों के अधिकांश ग्रामों में मौजूद तालाबों पर लगातार कब्जे होने की शिकायत मिलती रही है। कुछ गांवों में तो तालाबों का अस्तित्व ही समाप्त कर दिया गया है। जिससे गांव के रास्तों पर पानी भरा रहने की शिकायत बनी रहती हैं। जनपद के करीब डेढ़ हजार तालाबों पर भू माफियाओं का कब्जा बना हुआ है। जो तालाब खाली बचे हुए है उन पर भी भूमाफियाओं की टेढ़ी नजर है। 
बड़ौत तहसील के तेड़ा गांव के भी अधिकांश  तालाब अतिक्रमण की भेंट चढ़ चुके है। गांव में दो तीन तालाब बचे थे जिनमें से एक तालाब पर शासन प्रशासन की ओर से जारी लॉक डाउन के चलते भूमाफियाओं ने कब्जा करना शुरू कर दिया है। भाजपा जिला महिला मोर्चा की मीडिया प्रभारी अनीता देवी, समाजसेवी प्रदीप सिंह पंवार आदि समेत कई ग्रामीणों ने बताया कि गांव में प्राचीन शिव मंदिर के पास वाले करीब एक हेक्टेयर में फैले तालाब के कुछ हिस्से पर गांव के ही एक दबंग किस्म के भूमाफिया ने बेरिकेडिंग कर तालाब को अपने कब्जे में कर लिया है। ग्रामीणों ने डीएम को शिकायती पत्र भेजकर तालाब को कब्जामुक्त कराने की मांग की है। उधर, प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि जांच कराकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
---------------


Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट