राष्ट्रगान में बदलाव के लिए सुब्रमण्यम स्वामी ने पीएम को लिखा पत्र, ट्विटर पर लिखा ये पोस्ट

नई दिल्लीः बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने राष्ट्रगान में बदलाव के लिए पीएम मोदी को पत्र लिखा है. स्वामी ने पीएम मोदी को भेजे गए इस पत्र को ट्विटर पर भी शेयर किया है. उन्होंने खत में कहा है कि राष्ट्रगान 'जन गण मन...' को संविधान सभा में सदन का मत मानकर स्वीकार कर लिया गया था. उन्होंने आगे लिखा है, 26 नवंबर, 1949 को संविधान सभा के आखिरी दिन अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद ने बिना वोटिंग के ही 'जन गण मन...' को राष्ट्रगान के रूप में स्वीकार कर लिया था. हालांकि, उन्होंने माना था कि भविष्य में संसद इसके शब्दों में बदलाव कर सकती है. स्वामी ने लिखा है कि उस वक्त आम सहमति जरूरी थी क्योंकि कई सदस्यों का मानना था कि इस पर बहस होनी चाहिए, क्योंकि इसे 1912 में हुए कांग्रेस अधिवेशन में ब्रिटिश राजा के स्वागत में गाया गया था.

मायके और ससुराल वालों में जूतम पैजार, चार पकड़े

यूरेशिया संवाददाता


मेरठ। परिवार परामर्श केंद्र में समझौते की तारीख पर आए मायके और ससुराल वालों में मारपीट हो गई। मौके पर मौजूद अन्य लोगों और पुलिस वालों ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे नहीं माने। सूचना पर सिविल लाइन थाने से पुलिस पहुंची और दोनों पक्षों के दो-दो लोगों को हिरासत में ले लिया।
भोला रोड के शेखपुरी निवासी जासमीन की शादी 2 साल पहले रछौती निवासी साजिद से हुई थी। कुछ समय बाद ही दहेज की मांग को लेकर विवाहिता को परेशान किया जाने लगा। आरोप है कि 6 महीने पहले युवक पत्नी को बिना बताए सऊदी अरब चला गया। वहां से उसने अपनी पत्नी और ससुराल वालों को फोन कर इसकी जानकारी दी। मायके वाले बेटी को घर ले आए। तभी से मामला परिवार परामर्श केंद्र में चल रहा है। शनिवार को पुलिस लाइन में काउंसलिंग के लिए दोनों परिवार के लोगों को पुलिस ने बुलाया था। इस दौरान दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने शुरू कर दिए। कहासुनी के बाद दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। मौके पर अफरा-तफरी मच गई। मौजूद पुलिसकर्मी और अन्य लोगों ने उनको समझाने और रोकने का प्रयास किया लेकिन वे नहीं माने। सूचना पर सिविल लाइन थाना पुलिस पहुंची और दोनों पक्षों के दो दो लोगों को हिरासत में लेकर थाने ले आई।
थाना प्रभारी ऋषि पाल शर्मा का कहना है कि दोनों पक्षों का चालान किया गया है। वही परिवार परामर्श केंद्र प्रभारी मोनिका जिंदल ने बताया कि मामले में अगली तारीख लगा दी गई है।


Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां