सुबह 8 बजे से वोटिंग शुरू, नोटा का नहीं है विकल्प, हर हाल में देना होगा वोट

Image
मेरठ  ( युरेशिया) । स्नातक एवं शिक्षक चुनाव के लिए आज 1 दिसंबर 2020 को वोट डाले जा रहे हैं। जिसके लिए विक्टोरिया पार्क से सोमवार को ही पोलिंग पार्टी रवाना हुई थीं। जनपद मेरठ में स्नातक के लिए 77 व शिक्षक के लिए 30 बूथ बनाए गए हैं। एक पोलिंग पार्टी में एक पीठासीन अधिकारी व 3 मतदान अधिकारी मौजूद हैं। सुबह आठ बजे से वोटिंग शुरू हो गई है। जो शाम पांच बजे तक चलेगी।अधिकारी भी लगातार बूथ पर निरीक्षण कर रहे हैं। जिलाधिकारी के. बालाजी ने बताया कि मेरठ खंड स्नातक निर्वाचन के लिए मेरठ व सहारनपुर मंडल के सभी नौ जनपदों में मिलाकर 113 मतदान केन्द्र व 372 मतदेय स्थल (सहायक बूथ सहित) बनाये गये हैं। मेरठ खंड शिक्षक निर्वाचन के लिए मेरठ व सहारनपुर मंडल के सभी नौ जनपदों में मिलाकर 111 मतदान केन्द्र व 116 मतदेय स्थल (सहायक बूथ सहित) बनाये गये हैं। मेरठ में स्नातक के लिए 77 बूथ व 31 मतदान केन्द्र तथा शिक्षक निर्वाचन के लिए 30 बूथ व 30 मतदान केन्द्र हैं। उन्होंने बताया कि मतदान प्रातः 8.00 बजे से शाम 5.00 बजे तक होगा। स्नातक के लिए 30 व शिक्षक निर्वाचन के लिए 15 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। मतपत्र में नोटा

आपसी विवाद में मारपीट, तीन घायल, आरोपी मौके से फरार

 यूरेशिया संवाददाता
मीरापुरः ग्राम मुझेडा में आपसी विवाद के चलते कुछ युवको ने गांव के ही तीन लोगो को मारपीट कर गम्भीर रूप से घायल कर दिया और मौके से फरार हो गये।
ग्राम मुझेडा में कुछ दिन पूर्व शुएब पुत्र सीमू अपने खेतो से चारा लेने गया था। उसी दौरान कुछ युवको से शुएब का झगडा हो गया था। बाद में दोनो का गांव वालो ने बीच बिचाव करा दिया था लेकिन आज कामिल पुत्र फैमूदीन, शुएब पुत्र सीमू, नसीम पुत्र सलीम अपने खेतो से चारा लेने जा रहे थे। उसी दौरान लगभग आधा दर्जन युवको ने इनके साथ जमकर मारपीट की। इसमें कामिल पुत्र फैमुदीन, शुएब पुत्र सीमू व नसीम पुत्र सलीम को गम्भीर चोटे आयी। कामिल ने थाने में मारपीट की तहरीर दी। पुलिस ने घायलो को डाक्टरी परीक्षण के लिये सीएचसी जानसठ भेज दिया। मारपीट करने वाले युवक मौके से फरार हो गये। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।



Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां