मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में ३२३० लोगों ने उपचार का लाभ उठाया

युरेशिया संवाददाता    मेरठ। रविवार को जिले के ५७ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (पीएचसी) पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया गया। पूरे जनपद में करीब ३२३० लोगों ने मेले का लाभ उठाया। आरोग्य मेले के लिये १०७ चिकित्सकों ४४३ पैरा मेडिकल स्टाफ की सेवाएं ली गयीं । इस दौरान ५०७ आयुष्मान कार्ड वितरित किये गये।  मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में ११७६  पुरुष, ११६७ महिलाओं,  ३८७ बच्चों ने पंजीकरण कराया। मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में १४९४ कोरोना (एंटीजन) जांच की गयी। कोविड हेल्प डेस्क पर २०४१ लोगों का परीक्षण किया गया। स्वास्थ्य मेले में सबसे ज्यादा मरीज ७४५ चर्म रोग के आये।  मेले में मौसमी बीमारियों की जांच के अलावा प्रजनन स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं के साथ गर्भवती, बाल और किशोर स्वास्थ्य से जुड़ी जांच पर खास जोर रहा। नवदम्पति को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करते हुए उनकी पसंद के परिवार नियोजन के साधन उपलब्ध कराये गये। मेले में कोविड प्रोटोकाल का पूरी तरह से पालन किया गया।   मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा अखिलेश मोहन ने बताया सभी पीएचसी पर आयोजित मेले में १२४६ पुरुषों, १४५४ महिलाओं व ४१९ बच्चों का पं

रवा राजपूतों की अनदेखी भाजपा को पड़ेगी भारी

यूरेशिया संवाददाता


बड़ौत। भारतीय जनता पार्टी के जिला संगठन में बगावत का सिलसिला थम नही रह है। जिला संगठन से एक पदाधिकारी के इस्तीफा देने के बाद अब रवा राजपूत समाज में भी पार्टी पदाधिकारियों के खिलाफ विरोध की आवाज मुखर होने लगी है।  समाज के लोगों ने चेतावनी दी है कि आने वाले दिनों में समाज के इस अपमान का बदला लिया जाएगा। 
 बुधवार को सतगामा क्षेत्र के रवा राजपूत समाज के प्रबुद्ध लोगों की एक बैठक का आयोजन तेड़ा गांव में मैनेजर प्रदीप कुमार के आवास पर किया गया। बैठक में सतगामा क्षेत्र के चौधरी करण सिंह नंबरदार ने कहा कि रवा राजपूत समाज शुरू से ही भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में मतदान करता आया है। इस समाज के लोगों ने कभी किसी दूसरी पार्टी को आज तक वोट नहीं दिया। इसके बावजूद जिला संगठन कार्यकारिणी में समाज के किसी भी व्यक्ति को स्थान न देकर रवा राजपूत समाज का पार्टी ने घोर अपमान किया है जिसका बदला आने वाले आगामी चुनाव में लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि  बागपत लोक सभा व छपरौली बड़ौत और बागपत विधानसभा चुनाव में रवा राजपूत समाज की अहम निर्णायक भूमिका होती है, उसके बाद भी संगठन में समाज का कोई प्रतिनिधित्व न होने से समाज के लोगो मे काफी रोष है, जिसका माकूल जवाब समय आने पर दिया जाएगा। तितरौदा के ग्राम प्रधान विनोद कुमार ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि रवा राजपूत समाज पार्टी पदाधिकारियों का विरोध करेगा और उनके विधायक व सांसद को क्षेत्र में नही घुसने दिया जाएगा। संगठन में बाहरी लोगों को तव्वजों दी गई है, जबकि समाज जे लोगो की अनदेखी की गई है। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि रवा राजपूत समाज भाजपा का पिछलग्गू नही है, वह उसी पार्टी को अपना समर्थन देगा जो उसका सम्मान करेगा। संचालन मुकेश प्रधान ने किया। बैठक में तेड़ा, तितरौदा, नंगला, पोइस, फजलपुर, गवालीखेड़ा, शोभापुर, फतेहपुर आदि कई गांव के गणमान्य लोगों ने भाग लिया। बैठक में रामनिवास प्रधान, यशपाल सिंह, जसवंत, विकास कुमार, अजय सिंह, महिपाल सिंह, राजबीर सिंह, प्रदीप कुमार, बाबूलाल, अशोक कुमार, सत्यपाल, मास्टर सेवकराम आदि ने अपने विचार रखे। 


Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट