मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में ३२३० लोगों ने उपचार का लाभ उठाया

युरेशिया संवाददाता    मेरठ। रविवार को जिले के ५७ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (पीएचसी) पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया गया। पूरे जनपद में करीब ३२३० लोगों ने मेले का लाभ उठाया। आरोग्य मेले के लिये १०७ चिकित्सकों ४४३ पैरा मेडिकल स्टाफ की सेवाएं ली गयीं । इस दौरान ५०७ आयुष्मान कार्ड वितरित किये गये।  मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में ११७६  पुरुष, ११६७ महिलाओं,  ३८७ बच्चों ने पंजीकरण कराया। मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में १४९४ कोरोना (एंटीजन) जांच की गयी। कोविड हेल्प डेस्क पर २०४१ लोगों का परीक्षण किया गया। स्वास्थ्य मेले में सबसे ज्यादा मरीज ७४५ चर्म रोग के आये।  मेले में मौसमी बीमारियों की जांच के अलावा प्रजनन स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं के साथ गर्भवती, बाल और किशोर स्वास्थ्य से जुड़ी जांच पर खास जोर रहा। नवदम्पति को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करते हुए उनकी पसंद के परिवार नियोजन के साधन उपलब्ध कराये गये। मेले में कोविड प्रोटोकाल का पूरी तरह से पालन किया गया।   मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा अखिलेश मोहन ने बताया सभी पीएचसी पर आयोजित मेले में १२४६ पुरुषों, १४५४ महिलाओं व ४१९ बच्चों का पं

छात्र ने कॉलेज डायरेक्टर को मारी गोली, मौत


  • कॉलेज में ही बीए प्रथम वर्ष का छात्र है हमलावर


यूरेशिया संवाददाता



बड़ौत। बेखोफ छात्रों के हौंसले इतने अधिक बुलन्द हो चले है कि अब वे कॉलेज में भी प्रबंधक को गोली मारने से नहीं चूकते।


दरअसल, आपको बता दे कि घटना बागपत जनपद के लोयन गांव के हिमालयन कॉलेज की है, जहां पर कॉलेज डायरेक्टर गुलवीर पुत्र रामपाल उम्र 35 वर्ष निवासी लोयन को कॉलेज में ही बीए प्रथम वर्ष संस्थागत रूप से पढ़ने वाले छात्र ने ही गोली मार दी। गुलवीर सिंह बुखार के कारण चार-पांच बाद कॉलेज आये थे। दोपहर लगभग एक बजे जब वे अपने ऑफिस में बैठे हुए थे तो बाइक पर तीन युवक कॉलेज पहुँचे। बाइक को कॉलेज के बाहरी गेट पर ही खड़ी कर एक बीए प्रथम वर्ष में पढ़ने वाला छात्र एडमिट कार्ड लाने की बात गार्ड को कहकर कॉलेज के अंदर चला गया जबकि दो बाहर ही बाइक चालू करके खड़े रहे। छात्र कॉलेज डायरेक्टर गुलवीर को उनके ऑफिस से बाहर बुलाकर ले आया। कॉलेज के भीतरी गेट के समीप बुलाकर छात्र ने गुलवीर को सीने में गोली मार दी। गोली मारकर छात्र वहां से भाग निकला जिसे गार्ड ने रोकने का भी प्रयास किया, लेकिन छात्र गार्ड को तमंचा दिखाते हुए अपने अन्य दो साथियों के साथ बाइक पर बैठ वहां से भाग निकला। कॉलेज डायरेक्टर को गोली लगते ही वहां अफरा तफरी मच गई। आनन फानन में गुलवीर को बड़ौत के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां से गम्भीर हालत को देखते हुए मेरठ के लिए रेफर कर दिया गया, लेकिन गुलवीर ने मेरठ पहुँचने से पहले ही दम तोड़ दिया। गुलवीर की मौत से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। सूचना पर पहुँची पुलिस ने कॉलेज स्टाफ से घटनाक्रम की जानकारी ली। सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाले छात्र व अन्य दो साथियों की धरपकड़ के लिए तीन टीमें गठित कर दी है। 
सीओ बड़ौत आलोक सिंह का कहना है कि तीनों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। मृतक गुलवीर तीन भाई है जिनमें से वह दूसरे नम्बर का था। गार्ड सतेंद्र का कहना था कि जब उसने छात्र को रोकने का प्रयास किया तो वह उस पर तंमचा तानते हुए वहां से भाग निकला।


Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट