पत्रकार को धमकी देने वाले बिल्डर के खिलाफ केस दर्ज़,बिल्डर व गुर्गे फरार

युरेशिया नई दिल्ली। विश्व पत्रकार महासंघ दिल्ली प्रदेश ने मध्य जिला पुलिस उपायुक्त संजय भाटिया व एडिशनल डी सी पी रोहित कुमार मीणा को ज्ञापन व मांग पत्र सौंप कर पत्रकार मणि आर्य को धमकी देने वाले बिल्डर के खिलाफ मुकदमा दर्ज़ करके कार्रवाई की मांग की थी। पत्रकार मणि आर्य ने दिल्ली के पहाड़गंज में बाराही माता मंदिर में चल रहे अवैध निर्माण और निगम में फैले भ्रष्टाचार और भू - माफिया बिल्डर द्वारा सरकारी भूमि पर कब्जे को लेकर खबर को प्रकाशित की थी। जिसके बाद अब दिल्ली पुलिस ने सच दिखाकर प्रशासन को जगाने वाले स्थानीय पत्रकार मणि आर्य को धमकी देने वाले बिल्डर व उसके गुर्गों के खिलाफ नबी करीम थाना पुलिस भारतीय दंड सहिंता की धारा 506 के अंतर्गत रिपोर्ट संख्या 0013/2020 के तहत ने जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज़ कर लिया है। केस दर्ज़ होने की भनक लगते ही गिरफ्तारी के डर से आरोपी बिल्डर और उसके कई गुर्गे भूमिगत हो गए हैं। गौरतलब है की स्थनीय जनप्रतिनिधियों से सांठगांठ करके बिल्डर बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण करने में माहिर माना जाता है इसलिए निगम पार्षद से लेकर महापौर तक मंदिर पर अवैध निर्माण को

ऐतिहासिक धरोहरों को संरक्षित करने और पर्यटन विकास के लिये विशेष समिति का गठन हुआ


यूरेशिया संवाददाता


हस्तिनापुर। अखिल विद्या समिति के तत्वाधान में हस्तिनापुर के कर्ण मंदिर के प्राँगण में मंदिरों के अध्यक्ष, महन्त एवम समाजसेवी लोगो की बैठक आयोजित की गई। जिसमे ऐतिहासिक स्थलों, प्राचीन धरोहरों के संरक्षण एवं पर्यटन विकास के लिए  विशेष समिति का गठन किया गया। जिसके लिये सुदेश गुर्जर पप्पू को मुख्य प्रभारी, सोमनाथ पपनेजा,नरेन्द्र शर्मा,आचार्य हरिओम,अरविन्द गिरी उपाध्यक्ष,वेदरमनशास्त्री, मा श्यामसिंह महालवार,हरजेंद्र सिंह,लाखन सिंह,इलम सिंह सचिव,अनिल सारस्वत, विकास बंसल,सन्तराम सैनी , नंदकिशोर पप्पू,सहसचिव बनाया गया वहीं  सांसद, विधायक, SDM मवाना आर के भटनागर पूर्व आयुक, सी पी सिंह पूर्व न्यायाधीश इलाहाबाद सहित चेयरमैन अरुण कुमार,कर्ण मंदिर के महंत शंकर देव,पाण्डेश्वर मंदिर के अमन गिरी,भीष्म रमन स्वामी, प्रधान जितेंद्र सिंह,को संरक्षक टीम में शामिल किया गया हैं। 
 अखिल विद्या समिति के अध्यक्ष विष्णु अवतार रुहेला ने बताया कि अपनी ऐतिहासिक धरोहरों को सहेजने और पर्यटन विकास के लिये जितना सरकार और शासन की जिम्मेदारी है उससे अधिक स्थानीय नागरिकों की जागरूकता और सहयोग भी जरूरी हैं अपनी सांस्कृतिक विरासतों को बचाने के लिए निस्वार्थ सेवा भाव से समाजसेवी लोगो को आगे आना होगा तभी हम अपनी सांस्कृतिक धरोहरों की रक्षा कर सकेंगे। समिति ने पर्यटन परिपथ तैयार कर दिया है जिसके आधार पर मेरठ से परीक्षितगढ़, हस्तिनापुर, सैदपुर, फिरोजपुर,आदि की पर्यटक गाइड बुक बनाई जा रही हैं जिसका प्रकाशन प्रथम नवरात्रि पर किया जाना है।
 बैठक की अध्यक्षता स्वामी शंकर देव व संचालन सुदेश गुर्जर ने किया। इस अवसर पर डॉ राजेंद्र सिंह, अमित शर्मा, कृष्ण गोपाल शर्मा,प मुकेश, राकेश कुमार ,मनोज निर्मल, संजीव कुमार,सरदार अमरीक सिंह,आजाद बंसल, गजेंद्र सीना, हरवीर सिंह आदि उपस्थित रहे।


Popular posts from this blog

परीक्षितगढ़ क्षेत्र के ग्राम सिखैड़ा में महिला मिली कोरोना पॉजिटिव

मवाना में अवैध मीट कटान रोकने गई पुलिस टीम पर हमला 

माछरा गांव में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं लॉक डाउन की धज्जियां