मेडिकल कॉलेज के स्टाफ नर्स हॉस्टल के बंद कमरे में मिला युवक का शव


  • शिनाख्त का प्रयास करने में जुटी पुलिस, सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल


 यूरेशिया संवाददाता


मेरठ। मेडिकल कॉलेज में स्टाफ नर्स हॉस्टल के एक कमरे में युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को मोर्चरी भिजवाया। देर रात तक शव की पहचान नहीं हो सकी। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज देखी, लेकिन कुछ जानकारी नहीं मिली।
मेडिकल कॉलेज में स्टाफ नर्स हॉस्टल में 75 कमरे हैं। 25 कमरे खाली पड़े हैं। उनमें आजकल रंगाई पुताई व अन्य काम चल रहा है। दोपहर करीब ढाई बजे बिजली उपकरण सही करने आए कर्मचारियों ने हॉस्टल वार्डन सुनीता को सूचना दी कि प्रथम तल के एक कमरे में युवक का शव पड़ा है।
जानकारी पर प्राचार्य डॉ. आरसी गुप्ता, नर्सिंग कॉलेज के नोडल अधिकारी डॉ. दिनेश राणा, प्रमुख अधीक्षक डॉ. धीरज बालियान पहुंचे। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की। प्राचार्य ने बताया कि मृतक की उम्र करीब 40 साल है। गंदे कपड़े और बाल बढ़े हुए हैं। शव कई दिन पुराना लग रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौत का कारण पता चल पाएगा। सीओ सिविल लाइन हरिमोहन सिंह का कहना है कि शव की पहचान का प्रयास जारी है।
स्टाफ नर्स हॉस्टल में शव मिलने से सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए हैं। प्राचार्य का कहना है कि हॉस्टल में गार्ड दिन में रहता है। रात के लिए गार्ड की व्यवस्था नहीं है। हो सकता है कि यह व्यक्ति कमरे में घुस गया और उसकी मौत हो गई। लेकिन सवाल यह है कि कमरा बाहर से बंद था।
हॉस्टल वार्डन सुनीता गुप्ता से स्पष्टीकरण मांगा गया कि वह हॉस्टल का किस तरह से निरीक्षण करती हैं कि उन्हें घटना की जानकारी ही नहीं। प्राचार्य ने बताया कि यह सुरक्षा व्यवस्था का मामला है, जांच कराई जा रही है।


Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट