भुवी को टक्कर देने के लिये निकला मेरठ का एक गेंदबाज


  •   दक्षिण अफ्रीका में छाया कार्तिक  त्यागी 

  • १० रन देकर तीन विकेट चटकाए


वरिष्ठ संवाददाता 
मेरठ।भामाशाह क्रिकेट मैदान से एक और गेंदबाज अपनी तेजतर्रार गेंदबाजी से दक्षिण अफ्रीका में छाया हुआ है यह है दाएं हाथ का मध्यम तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी। मंगलवार को ब्लोमफोंटेन मैदान में विश्वकप अंडर-19 में भारत ने अपना दूसरा मुकाबला भी जीत लिया। भारत ने जापान को दस विकेट से पराजित किया है। कार्तिक ने दस रन देकर तीन विकेट चटकाए।
मंगलवार को जापान की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 22.5 ओवर में मात्र 41 रन पर सिमट गई। विकेट लेने का सिलसिला कार्तिक त्यागी ने ही शुरू किया। कार्तिक ने जापान के कप्तान एम थुरगाटे को एक रन पर बोल्ड करके पेवेलियन भेजा। इसके बाद विपक्षी टीम संभल नहीं सकी और 41 रन पर सिमट गई। कार्तिक ने छह ओवर में दस रन देकर तीन विकेट लिए। इससे पहले श्रीलंका पर भारत की जीत में भी कार्तिक ने किफायती गेंदबाजी करते हुए सात ओवर में 27 रन देकर एक विकेट लिया था। कार्तिक के इस प्रदर्शन से उसके होम ग्राउंड में साथी प्रशिक्षु और कोच  संजय रस्तोगी बेहद खुश हैं।
 बतादें  मूल रूप से हापुड़ के गांव धनौरा के रहने वाले कार्तिक त्यागी ने मेरठ के भामाशाह पार्क ग्राउंड पर लगातार प्रैक्टिस की है। यहां कोच संजय रस्तोगी से उन्होंने क्रिकेट सीखी है। कार्तिक के पिता योगेंद्र त्यागी छोटे किसान हैं उन्होंने किसी तरह कार्तिक को इस मुकाम तक पहुंचाया। पिछले साल कार्तिक का इंग्लैंड दौरे के लिए भी भारतीय अंडर-19 टीम में चयन हुआ था। इसके अलावा वह 2017 में रेलवे के खिलाफ लखनउ में एक रणजी मुकाबला खेल चुके हैं। उसमें कार्तिक ने अपनी तेजतर्रार गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया था। कार्तिक ने पूरे मैच मे 20 ओवर में सात मेडन के साथ 40 रन देकर तीन विकेट लिए थे। कोच संजय रस्तोगी का कहना है कि कार्तिक त्यागी प्रतिभावान खिलाड़ी है। विश्वकप में भारतीय जीत में उसकी गेंदबाजी पर काफी दारोमदार रहेगा।


Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट