श्री वेंकटेश्वरा विश्वविद्यालय में बेसिक लाइफ सपोर्ट पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन



  • सही प्राथमिक उपचार एवं बेसिक लाइफ सपोर्ट से प्रतिवर्ष लाखों लोगों को मिला नया जीवनदान डॉक्टर निशांत अख्तर


 यूरेशिया संवाददाता


 मेरठ. आज राष्ट्रीय राजमार्ग 24 रजबपुर आई स्थित श्री वेंकटेश्वरा विश्वविद्यालय में स्कूल ऑफ नर्सिंग की ओर से बेसिक लाइफ सपोर्ट एवं एडवांस कार्डियक लाइफ सपोर्ट विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें देश के कई हिस्सों से आए चिकित्सकों ने नर्सिंग पैरामेडिकल एवं मेडिकल के छात्र छात्राओं को किसी भी आकस्मिक स्थिति में बेसिक लाइफ सपोर्ट ट्रेनिंग के द्वारा किस तरह पीड़ित व्यक्ति की जान बचाई जा सकती है इस पर पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के द्वारा विस्तार से समझाया। 


बेसिक लाइफ सपोर्ट राष्ट्रीय कार्यशाला का शुभारंभ विश्वविद्यालय के डॉ सी वी रमन सभागार में प्रति कुलाधिपति डॉ राजीव त्यागी, कुलसचिव डॉ पीएम दिल्ली,p मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ पीएन मुखर्जी एवं डी नर्सिंग डायना ब्राउन ने मां सरस्वती के सम्मुख दीप प्रज्वलित कर किया


राष्ट्रीय कार्यशाला को संबोधित करते हुए वरिष्ठ चिकित्सक प्रोफेसर निशांत अख्तर ने कहा कि पिछले एक दशक में हृदयाघात प्लेनरी अटैक के मरीजों की काफी संख्या में बढ़ोतरी हुई है इसमें खास बात यह है कि युवा भी इसका तेजी से शिकार हो रहे हैं अचानक से हृदयाघात होने पर रोगी को बेसिक लाइफ सपोर्ट जैसे मुंह से मुंह सांस देना छाती को जोर से पंप करना एवं डीफैब तकनीक द्वारा रोगी की जान बचाई जा सकती है।


एक दिवसीय कार्यशाला को डॉक्टर प्रभात श्रीवास्तव, डॉक्टर एसएन शाह, डॉक्टर अना ब्राउन, डॉक्टर सुशील शर्मा आदि ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर मुख्य रूप से डॉक्टर राजेश सिंह, डॉक्टर मोहित  डॉक्टर सीपी कुशवाहा, नेहा बंगा, अफजल  कुलदीप, नूर मोहम्मद, प्रतिभा, पूजा आदि उपस्थित रहे। कार्यशाला का संचालन एकता उपाध्याय एवं सरिता सिंह ने की


Comments

Popular posts from this blog

यूपी पंचायत चुनाव : मेरठ में ग्राम प्रधान पदों की आरक्षण सूची जारी, देखें ब्लॉकवार आरक्षण की सूची

मेरठ में महिला ने तीन बेटियों समेत खुद की गर्दन काटी, एक की मौत

मुरादनगर में दर्दनाक हादसा, अंतिम संस्कार में गए लोगों पर गिरने से 23 की मौत, CM ने मांगी रिपोर्ट